ताज़ा खबर
 

भाजपा सांसद उदित राज ने की नजीब जंग को हटाने की मांग

भाजपा सांसद उदित राज ने दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग को हटाने की मांग करते हुए निर्वाचित प्रतिनिधि के नजरिए पर ध्यान नहीं देने के लिए उन्हें सुपर किंग..

Author नई दिल्ली | September 26, 2015 10:39 am
उदित राज ने कहा, उपराज्यपाल नजीब जंग ‘सुपर किंग’ की तरह व्यवहार कर रहे हैं। उन्हें हटाया जाना चाहिए। मैं उनके खिलाफ केंद्र को लिखूंगा।

भाजपा सांसद उदित राज ने शुक्रवार को दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग को हटाने की मांग करते हुए निर्वाचित प्रतिनिधि के नजरिए पर ध्यान नहीं देने के लिए उन्हें सुपर किंग करार दिया। उदित राज ने यह टिप्पणी ऐसे समय की है जब एक आइएएस अधिकारी पर कथित हमले के लिए उनके तीन समर्थकों को गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि बाहरी दिल्ली के कंझावला क्षेत्र में एक जिला मजिस्ट्रेट को उनके कार्यालय में बंधक बनाकर उन पर कथित रूप से हमला करने के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिनका भाजपा के सांसद का समर्थक होने का दावा है।

उत्तर पश्चिम दिल्ली के जिला मजिस्ट्रेट और पीड़ित संजय गोयल ने आरोप लगाया कि परमिंदर नाम के व्यक्ति के नेतृत्व में हमला किया गया और पूरी घटना उनके कार्यालय में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। बाहरी जिला के पुलिस उपायुक्त विक्रमजीत सिंह ने कहा कि पुलिस ने गोयल की शिकायत पर आइपीसी की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया है। फिलहाल प्राथमिकी में केवल परमिंदर का नाम शामिल है। इस मामले में अब तक भाजपा सांसद के निजी सहायक होने का दावा करने वाले परमिंदर, महेंद्र गर्ग और वीपी जायसवाल को गिरफ्तार किया गया है। सिंह ने कहा कि वे डीएम कार्यालय से प्राप्त सीसीटीवी फुटेज देख रहे हैं और गिरफ्तारियों की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। उत्तर पश्चिम दिल्ली संसदीय क्षेत्र से सांसद उदित राज से संपर्क नहीं हो पाया। आइएएस अधिकारी का दावा है कि ग्राम सभा के एक भूखंड से अवैध कब्जा हटाने के लिए समूह ने उन पर हमला किया।

इस बाबत उदित राज ने कहा, उपराज्यपाल ‘सुपर किंग’ की तरह व्यवहार कर रहे हैं। उन्हें हटाया जाना चाहिए। मैं उनके खिलाफ केंद्र को लिखूंगा। उन्होंने कहा कि गंभीर सार्वजनिक मामलों पर चर्चा के लिए जंग से बात करने के लिए उन्हें तीन चार दिन इंतजार करना पड़ा। बाहरी दिल्ली के कंझावला क्षेत्र में कल उत्तर पश्चिम दिल्ली के जिला मजिस्ट्रेट संजय गोयल पर कथित हमले के लिए उनके समर्थकों की गिरफ्तारी पर सांसद ने पुलिस पर नौकरशाहों के दबाव में काम करने का आरोप लगाया। यह पूछे जाने पर कि क्या जंग को हटाने की उनकी मांग हमला मामले से संबंधित है, उदित राज ने दावा किया कि यह अलग मुद्दा है। गोयल को उनके कार्यालय में बंधक बनाकर उन पर कथित हमले की घटना उनके कार्यालय में लगे सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई है। पुलिस ने गोयल की शिकायत पर आइपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

उदित राज ने कहा, मैंने शुक्रवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की और उन्हें उस घटना के बारे में बताया जिसमें अजा मोर्चा के पदाधिकारी परमिंदर और चार अन्य से कंझावला क्षेत्र में अतिक्रमण हटाओ अभियान के संबंध में जिला मजिस्ट्रेट से बात करने जाने पर धक्का मुक्की की गई। सांसद ने आरोप लगाया कि जंग और अन्य अधिकारी सांसदों की नहीं सुन रहे हैं। उन्होंने कहा, दिल्ली में केवल सात सांसद हैं। अगर वे हमसे बात नहीं करेंगे तो वह किससे बात करेंगे?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App