ताज़ा खबर
 

कांग्रेस ने 60 साल में दलितों के लिए क्या किया, बताएं राहुल : भाजपा

दलितों के सशक्तीकरण के राजग सरकार के प्रयासों का जिक्र करते हुए शास्त्री ने कहा कि कांग्रेस ने दलितों व गरीबों के नाम का सहारा लेकर बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया लेकिन बैंकों के दरवाजे पर कितने दलित खड़े हो पाए?

Author नई दिल्ली, 18 जून। | June 19, 2018 6:39 AM
(फोटो- पीटीआई)

दलितों के मुद्दे को लेकर राहुल गांधी के आरोपों पर तीखी प्रतिक्रिया जताते हुए भाजपा ने सोमवार को कहा कि 60 साल तक शासन के दौरान दलितों के सशक्तीकरण के लिए कुछ नहीं करने वाली कांग्रेस के वर्तमान अध्यक्ष को वास्तव में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति की परिभाषा भी नहीं पता है। भाजपा प्रवक्ता विजय सोनकर शास्त्री ने कहा कि राहुल गांधी जो भी विषय उठाते हैं, उसमें कोई तथ्य नहीं रहता है। उन्होंने आरोप लगाया कि राहुल गांधी की पार्टी कांग्रेस ने देश पर 60 साल तक शासन किया और आधारहीन आरोप लगाने के बजाय दलितों के सामाजिक उत्थान के लिए उनकी पार्टी की सरकार ने एक भी कार्य किया हो, तो वह इसके बारे में बताएं? भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि दलित देश में सामाजिक आधार पर कमजोर हैं और आरोप लगाया कि कांग्रेस के 60 सालों के शासनकाल में इनके सशक्तीकरण की दिशा में काम नहीं हुआ।

शास्त्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार ने अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति व समाज के कमजोर वर्ग के लोगों के सशक्तीकरण व उनके सामाजिक उत्थान के लिए प्रतिबद्ध पहल की है और दलितों के उत्थान के लिए 112 से ज्यादा योजनाएं लेकर आई है। कांग्रेस अध्यक्ष पर तंज कसते हुए भाजपा नेता ने कहा कि अब यह बात राहुल गांधी की समझ में कहां से आएगी। उन्होंने कहा कि जहां तक दलित उत्पीड़न का सवाल है, ऐसी कोई भी घटना दुर्भाग्यपूर्ण है लेकिन इसका आधार आर्थिक या राजनीतिक नहीं बल्कि सामाजिक है।

दलितों के सशक्तीकरण के राजग सरकार के प्रयासों का जिक्र करते हुए शास्त्री ने कहा कि कांग्रेस ने दलितों व गरीबों के नाम का सहारा लेकर बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया लेकिन बैंकों के दरवाजे पर कितने दलित खड़े हो पाए? उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने 32 करोड़ गरीबों को वित्तीय समावेशीकरण के तहत बैंकों के दायरे में लाने का काम किया। दलितों व गरीबों की बहू-बेटियों की इज्जत व सम्मान के लिए सरकार ने उनके घर के भीतर शौचालय के निर्माण की पहल की। हाल में राहुल गांधी ने वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा था कि ‘महाराष्ट्र के इन दलित बच्चों का अपराध सिर्फ इतना था कि ये एक सवर्ण कुएं में नहा रहे थे। आज मानवता भी आखिरी तिनकों के सहारे अपनी अस्मिता बचाने का प्रयास कर रही है। आरएसएस- भाजपा की मनुवादी नफरत की जहरीली राजनीति के खिलाफ हमने आवाज नहीं उठाई, तो इतिहास हमें कभी माफ नहीं करेगा’।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App