BJP MP says gurmehar kaur uses his father martyrdom for political rhetoric - बीजेपी सांसद ने कहा, 'गुरमेहर ने राजनीतिक बयानबाजी देने के लिए पिता की शहादत का किया इस्तेमाल' - Jansatta
ताज़ा खबर
 

बीजेपी सांसद ने कहा, ‘गुरमेहर ने राजनीतिक बयानबाजी देने के लिए पिता की शहादत का किया इस्तेमाल’

बीजेपी सांसद ने कहा है कि ," राजनीतिक बयान जारी करने के लिए एक शहीद के नाम का इस्तेमाल कहां तक सही है"।

गुरमेहर कौर। (photo source – Indian Express)

गुरमेहर कौर पर शुरू हुआ विवाद थमता नज़र नहीं आ रहा है। मैसूर कोदागू से बीजेपी सांसद प्रताप सिम्हा ने एक बार फिर कहा कि गुरमेहर कौर ने अपने बहादुर पिता की कुर्बानी का फायदा राजनीतिक बयानबाजी देने के लिए उठाया। दिल्ली के रामजस कॉलेज विवाद के बाद बीजेपी सांसद प्रताप सिम्हा ने अपने सोशल साइट्स पर एक के बाद एक कई पोस्ट किये थे। उनके एक पोस्ट में एक तरफ गुरमेहर कौर दिख रहीं थी तो दूसरी ओर अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम। इसका शीर्षक था ‘सैनिक की बेटी, पुलिस का बेटा’। प्रताप सिम्हा ने कहा कि, ‘ये तुलना नहीं थी, ये गुरमेहर कौर के अपरिपक्व राजनीतिक बयानों को दिखाने के लिए दिया गया एक उदाहरण था’। और ये पोस्ट एक फेसबुक पेज से लिया गया था, इसका मकसद ये बताना था कि गुरमेहर के बयान कितने मूर्खतापूर्ण हैं।

प्रताप सिम्हा ने कहा कि गुरमेहर अपने पिता की शहादत का गलत इस्तेमाल कर पॉलिटिकल स्टेटमेंट जारी कर रही है। बीजेपी सांसद के मुताबिक,” राजनीतिक बयान जारी करने के लिए एक शहीद के नाम का इस्तेमाल कहां तक सही है”। “क्या अगर एक राजनेता का बेटा या बेटी अपने पिता के पद का ग़लत इस्तेमाल करेगा तो हम उसकी आलोचना नहीं करेंगे”। उन्होंने कहा कि यदि नेता के बेटे-बेटी अपने पिता के नाम का गलत इस्तेमाल नहीं कर सकता है, तो फिर शहीद के बच्चे कैसे कर सकते हैं।

ये पूछने पर कि क्या लोगों के विरोध के बाद ही गुरमेहर इस मुहिम से हट गईं, बीजेपी सांसद ने कहा कि, ”जब अब राजनीतिक बयान जारी करते हैं, तो इसकी प्रतिक्रिया होनी लाजिमी है”। बीजेपी सांसद ने बताया कि गुरमेहर में हालात का सामना करने की ताकत नहीं थी और उसे जैसे ही पता चला कि उसका पर्दाफ़ाश हो सकता है, वो पीछे हट गई, इसके पलायन कहते हैं।

आपको बता दें कि गुरमेहर कौर ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि वो ABVP के खिलाफ अब प्रदर्शन नहीं करेंगी। इससे पहले गुरमेहर को सोशल साइट्स पर लोगों की कड़ी नाराजगी झेलनी पड़ी थी। कौर ने बताया था कि कई बार उसे रेप तक धमकियां मिली। इसके बाद उसने अपना प्रदर्शन वापस ले लिया या और लोगों से अपील की थी कि अब उसे अकेला छोड़ दिया जाए।

रामजस विवाद: किरण रिजिजू ने कहा- जवानों की मौत पर जश्न मनाते हैं ये वामपंथी

दिल्ली: रामजस कॉलेज में ABVP-AISA के बीच हिंसक झड़प, हुई मारपीट; जानिए पूरा मामला

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App