खो गया है अरविंद केजरीवाल का जनलोकपाल- दिल्ली की सड़कों पर लगे पोस्टर - bjp mla manjider Manjinder S Sirsa issues poster of delhi cm Arvind kejriwal over janlokpal bill missing - Jansatta
ताज़ा खबर
 

खो गया है अरविंद केजरीवाल का जनलोकपाल- दिल्ली की सड़कों पर लगे पोस्टर

मनजिंदर एस सिरसा ने लिखा, "आपने इसी मुद्दे पर 2013 का चुनाव लड़ा फिर 2014 में कांग्रेस के साथ गठबंधन तोड़ दिया। 2015 के चुनाव में भी आपने जनलोकपाल बिल को मुद्दा बनाया और लोगों से वोट मांगा। लेकिन सत्ता में 3 साल रहने के बाद भी जनलोकपाल बिल को पास करने के अपने वादे को पूरा नहीं किये हैं।"

दिल्ली की सड़कों पर ये तस्वीर बीजेपी विधायक मनजिंदर एस सिरसा ने लगवाया है (source-twitter@mssirsa)

दिल्ली की सड़कों पर इन दिनों एक पोस्टर लगा है। इस पोस्टर को दिल्ली बीजेपी के विधायक मनजिंदर एस सिरसा ने लगवाया है। इस पोस्टर में दिल्ली सरकार के जनलोकपाल बिल पर चुटकी ली गई है। इस पोस्टर पर लिखा हुआ है, “गुमशुदा की तलाश…केजरीवाल का जनलोकपाल बिल खो गया है, मिले तो क्रांतिकारी सीएम को पहुंचा दें।” इस पोस्टर में सीएम केजरीवाल की एक तस्वीर भी लगी हुई है। इस बावत बीजेपी विधायक ने सीएम अरविंद केजरीवाल को एक चिट्ठी भी लिखी है। इस चिट्ठी को उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट शेयर किया है। सिरसा ने कहा है कि आपने और आपकी पार्टी ने जनलोकपाल बिल के मुद्दे को पूरी तरह से भूला दिया है।

मनजिंदर एस सिरसा ने लिखा, “आपने इसी मुद्दे पर 2013 का चुनाव लड़ा फिर 2014 में कांग्रेस के साथ गठबंधन तोड़ दिया। 2015 के चुनाव में भी आपने जनलोकपाल बिल को मुद्दा बनाया और लोगों से वोट मांगा। लेकिन सत्ता में 3 साल रहने के बाद भी जनलोकपाल बिल को पास करने के अपने वादे को पूरा नहीं किये हैं, इससे भी ज्यादा जो आश्चर्यजनक बात है वो यह है कि आपके अपने ही नेताओं और विधाकों को पता नहीं है कि जनलोकपाल बिल की फाइल कहां है।”

बता दें कि विपक्षी नेता विजेंद्र गुप्ता और भाजपा विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा को 7 जून को दिल्ली विधानसभा से मार्शल द्वारा बाहर निकलवा गया था। सदन में मनजिंदर सिंह सिरसा और विजेंद्र गुप्ता जनलोकपाल विधेयक को लेकर हंगामा कर रहे थे। बीजेपी विधायकों ने कहा कि मनीष सिसोदिया पर आरोप लगाया कि वह सदन को भ्रमित करने वाली जानकारी दे रहे हैं।बीजेपी विधायकों ने कहा कि सिसोदिया ने बताया था कि जनलोकपाल विधेयक पारित होने के छह महीने के भीतर ही कानून बनाया जा सकता था और वह अब तक भ्रष्ट अधिकारियों को पकड़ रहा होता लेकिन दिल्ली विधानसभा द्वारा पारित विधेयक ‘‘केंद्र के पास पड़ा हुआ है।’’ विपक्षी नेताओं ने दावा किया कि जनलोकपाल विधेयक केंद्र के पास नहीं बल्कि दिल्ली सरकार के प्रशासनिक विभाग के पास सितम्बर 2017 से लंबित है।सिरसा ने मांग की कि सदन में झूठ बोलने के लिए सीएम केजरीवाल को माफी मांगनी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App