ताज़ा खबर
 

बर्ड फ्लू का खतराः दिल्ली की गाजीपुर मुर्गा मंडी दस दिनों के लिए बंद

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि अभी तक दिल्ली में बर्ड फ्लू का कोई पुष्ट मामला सामने नहीं आया है। 104 नमूने जांच के लिए जालंधर भेजे गए हैं, जिनकी रिपोर्ट सोमवार को आएगी।

Author नई दिल्ली | Updated: January 10, 2021 5:39 AM
Bird Fluदिल्ली की मुर्गा मंडी में खरीदारी करते लोग। (फोटो-इंडियन एक्सप्रेस)

बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए दिल्ली सरकार ने गाजीपुर मुर्गा मंडी को अगले 10 दिनों के लिए बंद कर दिया है। यह घोषणा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को की। इसके साथ ही जिंदा पक्षियों के दिल्ली आयात पर भी रोक लगा दी गई है। बर्ड फ्लू प्रकोप के मद्देनजर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की गाजीपुर मुर्गा मंडी 10 दिनों के लिए बंद रहेगी। सरकार ने बर्ड फ्लू के संक्रमण को रोकने के मकसद के साथ 24 घंटे की हेल्पलाइन 011-23890318 शुरू की।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि अभी तक दिल्ली में बर्ड फ्लू का कोई पुष्ट मामला सामने नहीं आया है। 104 नमूने जांच के लिए जालंधर भेजे गए हैं, जिनकी रिपोर्ट सोमवार को आएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों से पक्षियों के मरने की खबरें आ रही हैं, उन पर अधिकारी उचित कार्रवाई कर रहे हैं। उन्होंने संवाददाताओं से कहा-दिल्ली सरकार राजधानी में बर्ड फ्लू के प्रसार को रोकने के लिए सभी उपाय कर रही है। केजरीवाल ने कहा कि हमने दिल्ली के सभी जिलों के डीएम को दिशानिर्देश जारी किए हैं। हमने बर्ड फ्लू के लिए एक आपातकालीन हेल्पलाइन नंबर-011- 23890318 भी जारी किया है। पांच सदस्यीय विशेषज्ञ समिति बाजार में गतिविधियों पर नजर रखेगी।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कान्फ्रेंस कर कहा कि केंद्र सरकार ने इस बारे में कई दिशानिर्देश जारी किए हैं। उन सभी दिशानिर्देशों का दिल्ली सरकार पालन कर रही है। उसके हिसाब से सभी कदम दिल्ली के अंदर उठाए जा रहे हैं। दिल्ली के हर जिले के अंदर डीएम की निगरानी में सर्विलांस टीम बना दी गई है। रैपिड रिस्पॉन्स टीम बनाई गई है, जो पूरी मुस्तैदी के साथ काम कर रही है।
दिल्ली में जितने भी बड़े बाजार, वाइल्ड लाइफ संस्थान और जल निकाय हैं, इन सभी पर लगातार हमारे वैटरनिरी अधिकारी निगरानी कर रहे हैं। इन सभी टीमों का विशेष ध्यान पोल्ट्री मार्केट गाजीपुर, शक्ति स्थल झील, संजय झील, भलस्वा झील, दिल्ली जू, हौज खास विलेज स्थित डीडीए पार्क, पश्चिम विहार और द्वारका में है।

दिल्ली में अभी तक बर्ड फ्लू से मुर्गों के मरने का कोई मामला सामने नहीं आया है। लेकिन देश के कई भागों में इसको लेकर एहतियात के तौर पर उठाए गए कदमों से यहां की सबसे बड़ी मुर्गा मंडी गाजीपुर के कारोबार में इसका असर पड़ा है। शनिवार को दिल्ली सरकार की ओर से मंडी बंद करने की खबर के बाद कारोबार और प्रभावित होने के आसार बढ़ गए हैं।

गाजीपुर मंडी में रचना पोल्ट्री के नाम से मुर्गा मांस का कारोबार करने वाले जमील ने कहा कि अभी तक किसी भी पोल्ट्री में बर्ड फ्लू से बीमार मुर्गी सामने नहीं आई है, लेकिन दूसरे पक्षियों के मरने और मीडिया में बर्ड फ्लू की खबरों के कारण चिकन खाने वालों में खौफ पैदा हो गया है। जबकि अन्य कारोबारी रहमान का कहना है कि आशंकाओं के चलते मुर्गे से लोग परहेज कर रहे हैं। थोक भाव में 25 फीसद तक गिरावट आई है। दो-तीन दिन में चिकन की मांग कम हो गई है। बता दें कि गाजीपुर से दिल्ली-एनसीआर समेत कुछ और दूसरे इलाकों में चिकन की आपूर्ति होती है। अकेले गाजीपुर मंडी से ही रोजाना 4 लाख तक मुर्गे सप्लाई होते हैं। लेकिन तीन दिनों से हर रोज कमी देखी जा रही है।

रहमान के मुताबिक यहां थोक भाव 100 से 105 रुपए तक का रहता है लेकिन शनिवार को यह 70 रुपए तक जा गिरा है। पॉल्ट्री फार्म मालिक अलग-अलग जगहों से यहीं पर माल आपूर्ति करते हैं। रोजाना करीब 200 ट्रक माल आता है। प्रत्येक ट्रक में कम से कम 2000 मुर्गे होते हैं। इस हिसाब से गाजीपुर मंडी में रोजाना करीब 4,00000 मुर्गे या मुर्गी की खपत है। मंडी में ज्यादातर माल हरियाणा, पंजाब और राजस्थान से ही आता है, जहां बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। इसलिए दिल्ली सरकार ने सबसे पहले गाजीपुर मुर्गा मंडी में ही बर्ड फ्लू की जांच करने के लिए विशेष डॉक्टरों की टीम बनाई गई है।

Next Stories
1 दिल्लीः चांदनी चौक के सौंदर्यीकरण में भिखारी बन सकते हैं बाधा, जगह-जगह बना रहे अड्डा
2 दिल्ली मेट्रो के पास ट्रेनें चलाने के पैसे नहीं, केंद्र और राज्यों से मांगी मदद, 18 साल में पहली बार ऐसा संकट
3 ‘प्रवास’ के जरिए निगम चुनाव की जमीन तैयार करेगी भाजपा
आज का राशिफल
X