ताज़ा खबर
 

मांस की बिक्री पर प्रतिबंध बुनियादी अधिकारों का उल्लंघन : माकपा

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने आज कुछ भाजपा शासित राज्यों द्वारा मांस की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की निंदा की और इसे बुनियादी अधिकारों का उल्लंघन बताया।
Author दिल्ली | September 11, 2015 18:30 pm

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने आज कुछ भाजपा शासित राज्यों द्वारा मांस की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की निंदा की और इसे बुनियादी अधिकारों का उल्लंघन बताया।

पार्टी ने आरोप लगाया कि यह हिन्दूत्व मूल्यों को थोपने और सांप्रदायिक धु्रवीकरण करने के आरएसएस के मंसूबे का हिस्सा है।

माकपा ने यहां एक बयान में कहा, ‘‘पोलित ब्यूरो लोगों के रहन सहन और खान पान की आदतों पर बंदिशें लागू कर भारतीय नागरिकों के व्यक्तिगत जीवन के संवैधानिक बुनियादी अधिकारों, स्वतंत्रता और आजादी के उल्लंघन के बढ़ते मामलों की निंदा करती है।’

बयान में कहा गया कि यह हिन्दुवादी मूल्यों को लागू करने और सांप्रदायिक धु्रवीकरण करने के आरएसएस के मंसूबों का अभिन्न हिस्सा है। भाजपा शासित महराष्ट्र और राजस्थान सरकार ने जैन पर्व पर्यूषण को देखते हुए कुछ दिन के लिए मांस की बिक्री पर रोक लगाई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App