ताज़ा खबर
 

चंद्र गुप्त बनाने निकले थे, क्या पता ‘चंदा गुप्ता’ बनेगा- खेतान को लेकर विश्वास ने CM पर यूं साधा निशाना

आप इस वक्त अंदरूनी सियासी संकट का दौर झेल रही है। टीवी पत्रकार से नेता बने आशुतोष ने पहले पार्टी छोड़ने का ऐलान किया, बाद में खेतान भी उन्हीं की राह पर चलते दिखे। इन दोनों नेताओं ने 15 अगस्त को पार्टी से इस्तीफा दिया था।

कुमार विश्वास (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

आम आदमी पार्टी (आप) से आशीष खेतान के इस्तीफे पर संगठन से खफा चल रहे जाने-माने कवि कुमार विश्वास ने पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा है, “हम तो ‘चंद्र गुप्त’ बनाने निकले थे पर हमें क्या पता था ‘चंदा गुप्ता’ बन जाएगा।” विश्वास ने इससे पहले अपनी कविता की कुछ पक्तियों के जरिए भी सीएम पर सवाल उठाए। उन्होंने इशारों-इशारों में सीएम से पूछा कि बौनों का दरबार बनाकर क्या पाया? जो शिलालेख बनता, उसको अखबार बना कर क्या पाया?

आपको बता कें कि आप इस वक्त अंदरूनी सियासी संकट का दौर झेल रही है। टीवी पत्रकार से नेता बने आशुतोष ने पहले पार्टी छोड़ने का ऐलान किया, बाद में खेतान भी उन्हीं की राह पर चलते दिखे। इन दोनों नेताओं ने 15 अगस्त को पार्टी से इस्तीफा दिया था।

हालांकि, पार्टी को अलविदा कहने पर खेतान ने कहा कि वह अब अभी पूरी तरह से लीगल प्रैक्टिस पर ध्यान दे रहे हैं। वह सक्रिय राजनीति में शामिल नहीं हैं। राजनीतिक जानकारों की मानें तो खेतान नई दिल्ली लोकसभा सीट से दोबारा चुनाव लड़ना चाहते थे, मगर पार्टी इसके लिए राजी नहीं थी।


विश्वास ने उनके इस्तीफे पर बुधवार (22 अगस्त) की सुबह यह ट्वीट किया-

अगले ट्वीट में बागी नेता विश्वास बोले-

विश्वास की यह टिप्पणी आप के उस फैसले पर थी, जिसमें पार्टी ने राज्यसभा के लिए तीन उम्मीदवारों में दो सीटों पर बाहरी को जगह दी थी। दिल्ली के कारोबारी सुशील गुप्ता और सीए एनडी गुप्ता ये उम्मीदवार हैं। पार्टी में इनके नाम को लेकर मतभेद नजर आए थे। यहां तक कि कई लोगों ने तो केजरीवाल पर टिकट बेचने का आरोप भी लगा दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App