arvind kejriwal wants action against responsible officer for not getting payment to medicine suppliers in hospital - Jansatta
ताज़ा खबर
 

दवा आपूर्तिकर्ताओं के बिलों का भुगतान न होने पर भड़के केजरीवाल, कहा-अधिकारियों के वेतन से दिया जाए बिल

दवा आपूर्तिकर्ताओं ने 26 मई को मुख्यमंत्री से शिकायत की थी कि उनके बिलों का भुगतान काफी समय से लंबित है।

Author नई दिल्ली | May 31, 2017 2:03 AM
दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मुख्य सचिव को निर्देश दिया है कि वे दवा आपूर्तिकर्ताओं के बिल का भुगतान न किए जाने के कारण बताएं और इसके लिए एक तंत्र विकसित करें ताकि जिम्मेदार अधिकारियों के वेतन से कटौती कर ब्याज सहित भुगतान सुनिश्चित किया जाए। केजरीवाल ने मुख्य सचिव से बुधवार 11 बजे तक इस संबंध में जवाब मांगा है। दवा आपूर्तिकर्ताओं ने 26 मई को मुख्यमंत्री से शिकायत की थी कि उनके बिलों का भुगतान काफी समय से लंबित है।  केजरीवाल ने मुख्य सचिव एमएम कुट्टी को पत्र लिखकर दवा आपूर्तिकर्ताओं की शिकायत पर ये निर्देश दिए जारी किए।

मुख्य सचिव को लिखे पत्र में मुख्यमंत्री ने कहा है कि आपूर्तिकर्ताओं को भुगतान क्यों नहीं मिल रहा है? बुधवार सुबह 11 बजे तक लंबित भुगतानों की सूची मुझे भेजी जाए, साथ में कब से भुगतान नहीं हुआ है और न किए जाने का कारण भी बताया जाए? केजरीवाल ने पत्र में आगे निर्देश दिया है, एक ऐसी व्यवस्था विकसित की जाए, जिससे अगर दवा आपूर्ति के बाद भुगतान निर्धारित समय सीमा के अंदर नहीं किया जाता है तो ब्याज सहित भुगतान किया जाएगा और ब्याज की राशि उस विभाग के प्रमुख सहित अधिकारियों के वेतन से काटी जाएगी। मुख्य सचिव से अगले सोमवार तक भुगतान की इस योजना पर एक प्रस्ताव पेश करने को कहा गया है जिसमें इस बात का ब्योरा होगा कि कितने दिनंों का ब्याज चुकाना है, ब्याज की दर क्या होगी और किस-किस के वेतन से ब्याज काटा जाएगा। केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, उत्तरदायित्व, सुशासन की कुंजी है। किसी न किसी को अयोग्यता या गलत काम का परिणाम झेलने के लिए जिम्मेदार ठहराया जाना चाहिए।

 

शिवसेना ने कहा- जब गांधी का स्मारक बन सकता है तो ठाकरे का क्यों नहीं?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App