Arvind Kejriwal Shown Black Flags In Amritsar - अरविंद केजरीवाल को राजस्थान में दिखाए गए काले झंडे - Jansatta
ताज़ा खबर
 

अरविंद केजरीवाल को राजस्थान में दिखाए गए काले झंडे

राजस्थान के बीकानेर यात्रा पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद कजेरीवाल को काले झंडे दिखाए गए।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

राजस्थान के बीकानेर यात्रा पर मंगलवार (4 अक्टूबर) को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद कजेरीवाल को काले झंडे दिखाए गए। यह घटना वहां के नोखा कस्बे में हुई। मिली जानकारी के मुताबिक केजरीवाल को विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए थे। नोखा थाने के उपनिरीक्षक जसबीर कुमार ने बताया कि बीकानेर की ओर जा रहे मुख्यमंत्री अरविंद कजेरीवाल को विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए। पुलिस ने इस मामले में विहिप के बीकानेर नागौर जिले का जिम्मा संभाल रहे पदाधिकारी बजरंग पालीवाल को सीआरपीसी की धारा 151 के तहत गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि विहिप कार्यकर्ता दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा दिए हालिया बयान जिसमें उन्होंने भारत द्वारा पीओके में आतंकी शिविरों पर सर्जिकल स्ट्राइक पर ‘‘सबूत मांगने’’ की टिप्पणी का विरोध कर रहे थे। दूसरी ओर विहिप के एक कार्यकर्ता ने दावा किया ‘हमने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा सबूत मांगने को लेकर की गई टिप्पणी के विरोध में नोखा कस्बे में काले झंडे दिखाकर विरोध किया है। पुलिस ने हमारे दो कार्यकर्ताओं को पकडा है।’

गौरतलब है कि दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मतभेदों को परे करते हुए सर्जिकल स्‍ट्राइक के मुद्दे पर उनकी जोरदार तारीफ की। केजरीवाल ने सीमापार मौजूद आतंकी ठिकानों पर सर्जिकल स्‍ट्राइक का आदेश देने का फैसला लेने को पीएम मोदी को सैल्‍यूट किया। लगभग तीन मिनट के इस वीडियो में केजरीवाल ने कहा कि भले ही उनके पीएम मोदी से कई मुद्दों पर मतभेद हो लेकिन इस मुद्दे पर उनके साथ हैं। केजरीवाल ने सर्जिकल स्‍ट्राइक को नकार रहे पाकिस्‍तान को अंतरराष्‍ट्रीय मंच पर बेनकाब करने की अपील भी की थी। गौरतलब है कि 27-28 सितंबर की रात को भारतीय सेना ने पीओके में आतंकी लॉन्‍चपैड पर सर्जिकल स्‍ट्राइक की थी। इसमें बड़ी संख्‍या में आतंकी मारे गए थे। भारत की ओर से यह कार्रवाई उरी हमले के जवाब में की गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App