ताज़ा खबर
 

कपिल मिश्र के आरोपों पर अरविंद केजरीवाल ने तोड़ी चुप्पी, कहा- रत्ती भर भी सच होता तो मैं जेल में होता

सच्चाई और ईमानदारी उनकी सबसे बड़ी ताकत है, लेकिन आज इस पर सबसे बड़ा हमला किया गया है।

Author नई दिल्ली | May 22, 2017 1:21 AM
दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

बगावती तेवर अख्तियार किए कपिल मिश्र के आरोपों पर अभी तक चुप्पी साधे अरविंद केजरीवाल ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए रविवार को कहा कि जब अपने धोखा देते हैं तो बहुत दर्द होता है। निगम चुनाव के बाद पहली बार आयोजित दिल्ली प्रदेश पदाधिकारी सम्मेलन को संबोधित करते हुए आप के राष्ट्रीय संयोजक ने इन आरोपों को सबसे बड़ा हमला करार दिया और कहा कि यदि इनमें रत्ती भर भी सच होता तो वे आज जेल में होते। इसके साथ ही दिल्ली में खिसकती जमीन पर फिर से पकड़ हासिल करने के लिए केजरीवाल ने हर महीने के पहले रविवार को कार्यकर्ताओं से संवाद करने का एलान किया और पार्टी के सभी लोगों को जनता से संवाद करने का निर्देश दिया।  पंजाबी बाग में आयोजित पदाधिकारियों के सम्मेलन में केजरीवाल ने कहा कि सच्चाई और ईमानदारी उनकी सबसे बड़ी ताकत है, लेकिन आज इस पर सबसे बड़ा हमला किया गया है। केजरीवाल ने कहा कि ये हमले इसलिए हो रहे हैं क्योंकि ‘आप’ एक आज बहुत बड़ी ताकत है। उन्होंने हमले को इस बात का संकेत बताया कि विरोधियों को सबसे ज्यादा खतरा आज ‘आप’ से है। ‘आप’ संयोजक ने एक तरह से अपनी चुप्पी का कारण बताते हुए कहा, ‘ऐसे बेकार आरोपों के खिलाफ क्या बोलूं, लोग विश्वास ही नहीं कर रहे, विरोधी तक विश्वास नहीं कर रहे। अगर ऊपर वाले को कुछ करवाना है, तो वो आगे रास्ता दिखाएगा, जब अपने धोखा देते हैं तो बहुत दर्द होता है’।

अरविंद केजरीवाल ने ईवीएम के सवाल भी सम्मेलन के दौरान उठाए। केजरीवाल ने अपने पर भरोसा जताने के लिए लोगों को धन्यवाद दिया और पार्टी के लोगों को भरोसा दिलाया कि जब तक वो पार्टी चला रहे हैं वो लोगों के दिए हुए चंदे को अपवित्र नहीं होने देंगे। अपनी इस सफाई के साथ ही केजरीवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों, विधायकों और मंत्रियों को जनता के बीच अपनी पकड़ मजबूत करने के गुर दिए और ‘मेरा बूथ सबसे मजबूत’ अभियान की शुरुआत की। इसके साथ ही आप संयोजक ने एलान किया, ‘महीने के पहले रविवार को शाम 7 बजे हर विधानसभा में लोग घर से खाना लाकर साथ बैठेंगे और मैं गूगल हैंगआउट से 8 बजे सबसे बात करूंगा’। इसके साथ ही निर्देश जारी किया गया है कि आप विधायक, मंत्री और मुख्यमंत्री सोमवार से शुक्रवार तक रोज सुबह 10 बजे जनता से जरूर मिलेंगे और शनिवार और रविवार को सारे विधायक, मंत्री अपने-अपने क्षेत्र का दौरा किया करेंगे। इसके साथ ही केजरीवाल ने दिल्ली के हर एक वोटर से वाट्सऐप के जरिए संपर्क स्थापित करने की बात भी कही। सम्मेलन में दिल्ली सरकार में मंत्री, आप विधायकों, पदाधिकारियों और हजारों की संख्या में नवनियुक्त मंडल अध्यक्षों के भाग लेने का दावा किया गया। हालांकि, कपिल मिश्र ने इस पर तंज कसते हुए कहा, ‘कार्यकर्ता सम्मेलन और सिर्फ 450 लोग। क्यों? जल्द ही होगा असली कार्यकर्ता सम्मेलन’।

 

केजरीवाल की पत्नी ने किया ट्विट; कहा कपिल ने जैसा बीज बोया है वैसा ही काटेंगे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App