ताज़ा खबर
 

केजरीवाल-जंग संकट: दिल्ली के अधिकारियों ने मांगा स्पष्टीकरण, किसे करें रिपोर्ट

दिल्ली सरकार ने आज अपने नौकरशाहों से उप राज्यपाल नजीब जंग के आदेशों का ‘‘आंख मूंद कर पालन’’ न करने तथा बिना किसी डर या आशंका के, संविधान के प्रावधानों के अनुसार अपने कर्तव्य का...

Updated: May 20, 2015 9:45 PM

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप राज्यपाल नजीब जंग के बीच टकराव में फंसे शीर्ष नौकरशाहों ने इसको लेकर स्थिति स्पष्ट किए जाने की इच्छा जताई कि उन्हें किसके आदेशों का अनुसरण करना चाहिए। आप सरकार ने उनसे कहा कि वे बिना डर अथवा चिंता के संवैधानिक प्रावधानों के मुताबिक अपने कर्तव्य का निर्वहन करें।

नौकरशाहों की नियुक्ति पर उप राज्यपाल के साथ गतिरोध के बाद सरकार द्वारा बुलाई गई यह बैठक करीब तीन घंटे तक चली। बैठक की अध्यक्षता करते हुए उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने वरिष्ठ अधिकारियों को संविधान के विभिन्न प्रावधानों, दिल्ली की राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र की सरकार कानून के विभिन्न प्रावधानों तथा दिल्ली सरकार के कामकाज के बारे में बताया।

बैठक में कुछ देर के लिए शामिल हुए केजरीवाल ने अधिकारियों से कहा कि वे संविधान के प्रावधानों के मुताबिक और बिना किसी डर अथवा चिंता के काम करें। इस बैठक में विभिन्न विभागों के सचिव, प्रमुख सचिव और प्रमुख शामिल हुए।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बैठक में विचारों का स्वस्थ तरीके से आदान प्रदान हुआ। सूत्रों ने बताया कि सिसोदिया ने नौकरशाहों को उप राज्यपाल के साथ टकराव पर सरकार के रूख से अवगत कराया और कहा कि सरकार संविधान के प्रावधानों का पालन करने तथा कुशल प्रशासन सुनिश्चित करने में तय मानकों का पालन करेगी तथा उन्हें पूरे उत्साह के साथ काम करने के लिए प्रेरित करेगी।

सूत्रों के अनुसार अधिकारियों को कहा गया कि वे (उप राज्यपाल के) आदेशों का आंख बंद कर पालन न करें। कई नौकरशाहों ने नियमों और नियमनों पर अपने विचार व्यक्त किये। उन्होंने इस बारे में भी राय दी कि सरकार को इस मुद्दे का हल कैसे निकालना चाहिए।

Next Stories
1 राजनाथ सिंह ने कहा, नजीब जंग और केजरीवाल संग बैठकर हल करें तकरार
2 केजरीवाल ने मोदी से कहा: शहर की सरकार को स्वतंत्र रूप से काम करने दें
3 रेस्टोरेंट एनकाउंटर: स्पेशल सेल ने ही मनोज वशिष्ठ को बताया था पाक-साफ
ये पढ़ा क्या?
X