ताज़ा खबर
 

फेल हो गई अखिलेश-मुलायम के बीच चली 3 घंटे की बैठक, रामगोपाल बोले- चुनाव आयोग ही करेगा फैसला

एक जनवरी को विशेष अधिवेशन में अखिलेश को राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चुना गया था।

समाजवादी पार्टी फिलहाल दो गुटों में बंटी नजर आ रही है।

समाजवादी पार्टी से निष्‍कासित रामगोपाल यादव ने कहा है कि अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव के बीच 3 घंटों तक चली बातचीत फेल हो गई है। उन्‍होंने कहा, ”जो भी बातचीत चल रही उसका कोई मतलब नहीं है। हम चुनाव आयोग जा चुके, वही फैसला करेगा।” दूसरी तरफ यूपी के गवर्नर राम नाईक ने कहा है कि ‘उत्‍तर प्रदेश में कोई संवैधानिक संकट नहीं है। किसी पार्टी विशेष में जो हो रहा है, वह उसका आंतरिक मामला है। अभी तक बहुमत को लेकर किसी पार्टी ने शिकायत नहीं की है।’ विपक्ष सपा के भीतर हो रही इस लड़ाई पर हमलावर है। गोरखपुर से भाजपा सांसद योगी आदित्‍यनाथ ने इसे ‘ड्रामा’ करार दिया है। उन्‍होंने कहा, ”सपा के चुनाव संचालक ने ड्रामा रचा है। पूरा झगड़ा अखिलेश को चमकाने के लिए हो रहा है। और इसमें शिवपाल को बलि का बकरा बनाया जा रहा है।”

गौरतलब है कि एक जनवरी को विशेष अधिवेशन में अखिलेश को राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चुना गया था। इसमें मुलायम को मार्गदर्शक बना दिया गया था। साथ ही उत्‍तर प्रदेश सपा अध्‍यक्ष पद पर नरेश उत्‍तम को नियुक्‍त किया गया था। यह पद शिवपाल यादव के पास था। इस अधिवेशन के बाद मुलायम ने रामगोपाल यादव को छह साल के लिए सपा से निकाल दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App