ताज़ा खबर
 

दिल्ली और देश रहा धुआं-धुआं, अभी और घुटेगा दम, स्कूल बंद, निर्माण कार्यों पर रोक

सफर के मुताबिक दिल्ली और एनसीआर में सोमवार को प्रदूषण पुणे और मुंबई के मुकाबले अधिकतम स्तर पर पांच से छह गुना ज्यादा रहने का अनुमान है।

Author नई दिल्ली | Published on: November 7, 2016 3:45 AM
धुंध और प्रदूषण के बीच गुड़गांव की रैपिड मेट्रो की एक तस्वीर। PTI Photo

रविवार को पंजाब, हरियाणा, दिल्ली से लेकर मध्य प्रदेश के सिंगरौली, यूपी के आगरा, मुरादाबाद, कानपुर, लखनऊ, इलाहाबाद, वाराणसी, गोरखपुर और बिहार में पटना और झारखंड में रांची, धनबाद, जमशेदपुर तक धुएं की मोटी चादर पसर गई। अमेरिका की नासा की वेबसाइट पर रविवार को जारी ताजा उपग्रही तस्वीर में पंजाब में जलाए जा रहे ठूंठ से उठा धुआं पूर्व तक फैला दिखाई दे रहा है। उल्लेखनीय है कि नासा प्रतिदिन अपने उपग्रह के जरिये धरती के विभिन्न हिस्सों की तस्वीरें जारी करता है। निश्चित ही रविवार को धुएं और इसमें मिले प्रदूषण कण का स्तर काफी खतनाक था और सोमवार को यह रविवार के मुकाबले और खतरनाक रूप ले लेगा।

इस बीच, सप्ताहांत की छुट्टियों के बाद दिल्ली में सोमवार को दफ्तर जाने वालों को प्रदूषण पर निगाह रखने वाले केंद्र सरकार के संस्थान सफर ने खबरदार किया है। उसके मुताबिक दिल्ली की हवा और भी ज्यादा दमघोंटू हो सकती है। यह शनिवार और रविवार के मुकाबले कहीं ज्यादा प्रदूषित होगी। पंजाब से आ रहे धुएं में प्रदूषण के महीन और बड़े कण अपना और असर दिखाएंगे। सफर के मुताबिक दिल्ली और एनसीआर में सोमवार को प्रदूषण पुणे और मुंबई के मुकाबले अधिकतम स्तर पर पांच से छह गुना ज्यादा रहने का अनुमान है। यह संस्थान इन तीनों महानगरों में रोजाना की आबोहवा पर निगाह रखता है। इतना ही नहीं, रविवार को दिल्ली की हवा चीन की राजधानी बेजिंग और बड़े शहर शंघाई के मुकाबले चार से पांच गुना ज्यादा खराब रही।

धुंध की मोटी चादर से घिरी दिखी राजधानी दिल्ली

केंद्रीय विज्ञान और पृथ्वी मंत्रालय के पुणे स्थित केंद्रीय संस्थान सिस्टम आॅफ एअर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) ने अनुमान लगाया है कि सोमवार को दिल्ली में पीएम 10 (बड़े कण) और पीएम 2.5 (महीन कण) का स्तर क्रमश: 860 और 613 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रहेगा। वहीं, मुंबई में पीएम 10 (बड़े कण) और पीएम 2.5 (महीन कण) का स्तर क्रमश:144.6 और 88.7 और पुणे में 101.3 और 56.5 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रहने का अनुमान है। सफर ने सोमवार को दिल्ली की आबोहवा को सेहत के लिए गंभीर स्तर का घोषित किया है जबकि मुंबई और पुणे में सामान्य से लेकर अच्छा बताया है। दिल्ली में शनिवार को 24 घंटे (पीएम 10 (बड़े कण) और पीएम 2.5 (महीन कण) ) का क्रमश: स्तर 482 और 355 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर रहा था।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 प्रेग्‍नेंसी के दौरान पत्‍नी संबंध बनाने से मना करे तो यह तलाक का आधार नहीं: दिल्‍ली हाईकोर्ट
2 दिल्ली प्रदूषण: अरविंद केजरीवाल ने दिए आदेश- तीन दिन स्कूल और पांच दिन निर्माण कार्य रहेंगे बंद
3 ये है भारत की इकलौती फीमेल मैकेनिक, 50 साल की उम्र में भी करती हैं रोजाना 12 घंटे काम