ताज़ा खबर
 

वैलेंटाइंस डे: डीयू के कॉलेज में इस पेड़ पर गुड लक के लिए कंडोम बांधते थे युवा, विवाद के बाद बदला रिवाज

हालांकि बीते काफी सालों से चली रही इस प्रथा को लेकर कई महिला छात्रों द्वारा विरोध किया जा रहा था। उनका कहना है कि यह रिवाज महिलाओं को वस्तु के तौर पर दर्शाती है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

वैलेंटाइंस डे को एक दिन बचा है। लेकिन इससे पहले ही दिल्ली यूनिवर्सिटी के एक कॉलेज में चला आ रहा रिवाज बदल दिया गया है। दरअसल, डीयू से सम्बद्ध हिंदू कॉलेज में एक पेड़ पर गुड लक के लिए कंडोम बांधा जाता था। इस रिवाज को अब बढ़ते विवाद के बाद बदल दिया गया है। कॉलेज के हॉस्टेल में रहने वाले छात्र वर्जिन ट्री पूजा का आयोजन करते थे।

बीते साल से इस पर काफी विरोध हो रहा था। पिछले साल ही यहां कॉलेज में बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह को लव गुरु दर्शाकर पूजा गया था। कॉलेज में हर साल स्टूडेंट्स इस वर्जिन ट्री की पूजा करते हैं और इस पर कंडोम बांधते आए हैं। यहां के छात्र इसे गुड लक के तौर पर देखते हैं। इनका मानना है कि ऐसा करने से उन्हें उनका प्यार मिल जाएगा। इसके साथ ही यहां पिंजरा तोड़ और दमदमी माई की भी वैलेंटाइन डे पर पूजा की जाती है। कॉलेज की इन प्रथाओं का भी विरोध हो रहा था।

हालांकि बीते काफी सालों से चली रही इस प्रथा को लेकर कई महिला छात्रों द्वारा इस रिवाज का विरोध किया जा रहा था। उनका कहना है कि यह रिवाज महिलाओं को वस्तु के तौर पर दर्शाती है। इसी प्रथा को लेकर सोमवार को महिला छात्रों, हॉस्टेल एसोसिएशन और स्टूडेंट यूनियन में बात हुई।

कॉलेज में इंग्लिश आनर्स की थर्ड इयर स्टूडेंट योगिता सुरेश ने बताया कि, ‘बैठक में हमने इस प्रथा को लेकर अपनी बात की। लेकिन हॉस्टेल में रहने वाले छात्र इस पर सहमत नहीं थे। हालांकि, काफी विरोध के बाद सभी ने किसी फेमस कपल की पूजा का आयोजन करने का फैसला लिया है। 14 फरवरी को ही इसका खुलासा होगा कि पूजा के लिए किस कपल को चुना जाएगा। हम उसी कपल की फोटो वर्जिन ट्री पर लगाएंगे’।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

    Tags:
  • Du