ताज़ा खबर
 

AAP विधायक ने अरविंद केजरीवाल को दी चापलूसों से दूर रहने की नसीहत, लिखा- ‘चमचा नियरे राखिए, जल्दी राज्य डुबाय’

राजेश ऋषि ने कहा, 'नगर निगम चुनाव में कई ऐसे लोगों को टिकट मिल रहा है जिन पर मुझे आपत्ति है, लेकिन मेरी कोई नहीं सुन रहा है।'

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Express Photo)

दिल्ली के नगर निगम चुनावों से पहले आम आदमी पार्टी में दबे स्वरों में एक और बगावत की बू आ रही है। वबानाके विधायक वेद प्रकाश के पाला बदलने के बाद एक और विधायक ने सोशल मीडिया के जरिये सीएम अरविन्द केजरीवाल को चाटूकारों से दूर रहने की सलाह दी है। जनकपुरी के आम आदमी पार्टी विधायक राजेश ऋषि ने ट्विटर के जरिये केजरीवाल को सलाह दी है कि वे पार्टी के हित में चाटूकारों से दूर रहें। अंग्रेजी वेबसाइट हिन्दुस्तान टाइम्स के मुताबिक विधायक राजेश ऋषि ने अपने कई ट्वीट में पार्टी नेता कुमार विश्वास को भी टैग किया है। इससे पहले बवाना विधायक ने आरोप लगाया था पार्टी में आतंरिक लोकतंत्र को कुचला जा रहा है और पार्टी अपने चुनावी वादे पूरे नहीं कर पा रही है।

हालांकि जब राजेश ऋषि से हिन्दुस्तान टाइम्स ने संपर्क किया तो उन्होंने कहा कि मैं केजरीवाल के साथ उनके आंदोलन के दिनों से जुड़ा हूं और उनके पाला बदलने का सवाल नहीं है, लेकिन उन्होंने ये जरुर कहा कि सीएम अरविंद केजरीवाल के नजदीक रहने वाले कुछ नेताओं ने पार्टी की कार्यप्रणाली पर एकाधिकार कर लिया है और नगर निगम चुनावों के टिकट बंटवारे में उनकी कोई नहीं सुन रहा है। राजेश ऋषि ने कहा, ‘नगर निगम चुनाव में कई ऐसे लोगों को टिकट मिल रहा है जिन पर मुझे आपत्ति है, लेकिन मेरी कोई नहीं सुन रहा है।’ उन्होंने कहा कि दूसरे शब्दों में पार्टी के कार्यकर्ता की बात को नजरअंदाज कर बाहरी लोगों को तवज्जो दी जा रही है।

 

 

हालांकि बाद में राजेश ऋषि ने अपने ट्वीट डिलीट कर दिये। राजेश ऋषि ने एक ट्वीट में लिखा था, ‘पहले राज्य चलाने के लिए था निंदक नियरे राखिए लंबा राज्य चलाए, लेकिन अब है चमचा नियरे राखिए, जल्दी राज्य डुबाय।’ हालांकि उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि पार्टी आलाकमान इस बार मेरी बात सुनेगा, और आम कार्यकर्ताओं की बात को सुनेगा।

GST से जुड़े 4 बिल लोकसभा में पास होने पर पीएम मोदी ने देशवासियों की दी बधाई; कांग्रेस ने पूछा- "12 लाख करोड़ रुपए के नुकसान की भरपाई कौन करेगा"

लालबत्‍ती: सुविधा या वीआईपी कल्‍चर? जानिए विभिन्न राज्यों में क्या हैं नियम

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सुप्रीम कोर्ट की बेटी बता कर दिल्ली पुलिस के कॉन्स्टेबल से उलझ गई महिला, कहा- पैसे देकर हुए हो भर्ती, औकात बता दूंगी
2 सुप्रीम कोर्ट ने पूरे देश भर में लगाई बीएस-3 तक के वाहनों की बिक्री पर रोक, जानिए क्यों?
ये पढ़ा क्या?
X