ताज़ा खबर
 

AAP विधायक अलका लांबा का आरोप- मीटिंग में टुच्‍चा, गधा कह देते हैं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

एक सवाल के जवाब में आप विधायक अलका लांबा ने कहा, 'केजरीवाल कई बार विधायकों को टुच्चा कह चुके हैं। उनकी औकात नहीं है, कह चुके हैं।'

Author Updated: March 17, 2019 11:54 AM
मीडिया से बात करते हुए आप विधायक अल्का लांबा।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के चांदनी चौक से आम आदमी पार्टी (आप) की विधायक अलका लांबा ने पार्टी के नेतृत्व पर सवाल उठाए हैं। करीब-करीब पार्टी छोड़ने वाली लांबा ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बैठकों में विधायकों का अपमान करते हैं। उनके खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल तक करते हैं। विधायक ने एक टीवी चैनल के पत्रकार से कहा कि केजरीवाल ने उनके एक सवाल के जवाब में कहा कि वो ‘क्या बक रही हैं’। दरअसल चांदनी चौक की विधायक से जब पूछा गया कि दिल्ली विधानसभा में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से भारत रत्न पुरस्कार वापस लेने का प्रस्ताव जब लाया गया तब इसका खासा विरोध हुआ। विधायक ने खुद इसका विरोध किया। उन्होंने प्रस्ताव की कॉपी व्हाट्सएप ग्रुप में भी अपलोड कर दी है, तब केजरीवाल का क्या स्टैंड था?

विधायक ने कहा, ‘मैंने प्रस्ताव की कॉपी व्हाट्सएप ग्रुप में डालने के बाद आलाकमान से जानना चाहा कि पार्टी का क्या स्टैंड है? मेरे इस सवाल के जवाब में उन्होंने (केजरीवाल) ने कहा कि मैं क्या बक रही हूं। मुझे बहुत बुरा लगा।’ लांबा ने आगे बताया, ‘मैंने केजरीवाल से कहा कि मेरे बकने से पहले आपके विधायक जरनैल सिंह और सब लोग मीडिया में ब्रेकिंग बना चुके हैं। इसलिए इसका दोष मुझपे मत डालिए। सीएम ने मुझसे इस्तीफा मांग लिया और मैं भी तुरंत इसके लिए तैयार हो गई।’

एक सवाल के जवाब में आप विधायक अलका लांबा ने कहा, ‘केजरीवाल कई बार विधायकों को टुच्चा कह चुके हैं। उनकी औकात नहीं है, कह चुके हैं। पार्टी के एक सीनियर विधायक को गधा तक कहा गया। तब विधायक आंखों में आंसू लिए मीटिंग से बाहर आए थे। उन्होंने अपना इस्तीफा तक दे दिया था।’

यहां देखें वीडियो-

बता दें कि लांबा ने कहा है कि अगर कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के लिए उनसे संपर्क किया जाता है तो वह प्रस्ताव पर विचार करेंगी। उन्होंने यह भी कहा कि आगामी कुछ दिनों में दिल्ली में कांग्रेस और आप के बीच गठबंधन की संभावना है। अलका ने कहा, ‘यह समय भाजपा के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन में में शामिल होने का है और अगर कांग्रेस मुझसे संपर्क करती है तो मैं प्रस्ताव पर विचार करूंगी और इससे इंकार नहीं करूंगी।’ उन्होंने कहा, ‘मैं दो दशक तक कांग्रेस में रही हूं। कांग्रेस अच्छा कर रही है और यह समय भाजपा के खिलाफ आंदोलन में शामिल होने का है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सत्ता समर: राष्टीय चेहरे बनाता रहा है दिल्ली का चुनावी मैदान
ये पढ़ा क्‍या!
X