ताज़ा खबर
 

AAP की रैली में कुमार विश्‍वास ने डॉ. आंबेडकर पर साधा निशाना? बयान से AAP ने किया किनारा

मामले में विवाद बढ़ता देख AAP नेता कुमार विश्वास ने सफाई दी है।

AAP नेता कुमार विश्वास। (फोटो सोर्स पीटीआई)

आम आदमी पार्टी (AAP) नेता कुमार विश्वास पर संविधान निर्माता भीमराव आंबेडकर का कथित तौर पर अपमान का आरोप लगने के बाद अब पार्टी आलाकमान ने सफाई दी है। खुद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सफाई देते हुए कहा, ‘आरक्षण के मुद्दे पर कुमार विश्वास की टिप्पणी पर पार्टी खुद को इससे अलग करती है। केजरीवाल ने आगे कहा, ‘संविधान के अनुसार दिए आरक्षण का पार्टी पूरी तरह से समर्थन करती है। वहीं भाजपा को अपने ही राज्यों में दलितों के खिलाफ बढ़ते अपराध की तरफ देखना चाहिए।’ दरअसल आप नेता कुमार विश्वास का एक कथित वीडियो वायरल हुए था। जिसमें वह कहते नजर आ रहे हैं, ‘एक आदमी यहां आकर जातिवाद की रीत डाल गया था आंदोलन के नाम पर। आरक्षण के आंदोलन के नाम पर उससे पहले झगड़ा नहीं था।’

हालांकि विवाद बढ़ता देख कुमार विश्वास ने न्यूज एजेंसी एएनआई को मामले में सफाई दी। सामने आए वीडियो में उन्होंने कहा, ‘मैंने दो अक्टूबर एक भाषण दिया था कि 1970 में जब पैदा हुआ तब जातिवाद नहीं था। हमारे यहां सफाई कर्मचारी आती थीं जिनकी शादी उसी वर्ष हुई थी जिस वर्ष हमारी दादी की हुई थी। दोनों सहेलियां थीं। एक साल में शादी होकर दोनों गांव में आईं थीं। वो हमारे घर में बहुओं और बच्चों को खूब डांटती थीं।’

HOT DEALS
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Gunmetal Grey
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹0 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 13989 MRP ₹ 16999 -18%
    ₹2000 Cashback

विवादित भाषण वाले वीडियो पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने भाषण में 1990 के दशक का ज्रिक करते हुए कहा था कि तब एक व्यक्ति ने आरक्षण के नाम पर एक आंदोलन चलाया और समाज को गहरे जातियों में बांटने की कोशिश की। मेरे पिछले बयान को तोड़मरोड़ कर इस तरह चलाया गया जैसे में बाबा साहेब आंबेडकर के विरोध में हूं। जबकि मैं उनका सम्मान शुरू से करता रहा हूं। उनके जन्मदिन पर मैंने बड़े लेख फेसबुक पर लिखे।’

बता दें कि पूर्व में सोशल मीडिया में कुमार विश्वास का एक वीडियो वायरल होने पर लोगों ने उनके खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App