ताज़ा खबर
 

PMO के लिए जासूसी कर रहे हैं LG, भाजपा गिरानी चाहती है दिल्‍ली की सरकार: AAP

दिल्‍ली में सत्‍ताधारी 'आप' ने आरोप लगाया कि भाजपा केन्‍द्र सरकार और अन्‍य संवैधानिक पदों का दुरुपयोग कर रही है।

Author नई दिल्‍ली | June 7, 2016 4:57 PM
आम आदमी पार्टी के नेता आशुतोष। (FILE PHOTO)

आम आदमी पार्टी (आप) ने मंगलवार को उपराज्यपाल नजीब जंग पर प्रधानमंत्री कार्यालय के लिए जासूसी करने का आरोप लगाया। आप ने साथ ही यह आरोप भी लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) दिल्ली सरकार को अस्थिर करना चाहती है।

आप नेता संजय सिंह ने कहा, उपराज्यपाल प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के जासूस की तरह काम कर रहे हैं। भाजपा दिल्ली सरकार को अस्थिर करना चाहती है। ‘आप’ की यह टिप्पणी एक रपट प्रकाशित होने के बाद आई है, जिसमें कहा गया था कि जंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्रा से शिकायत की है कि रेलवे के एक अधिकारी एस.के. अग्रवाल अपने विभाग से अध्ययन अवकाश लेकर दिल्ली सरकार के लिए काम करते पाए गए।

आम आदमी पार्टी के नेता आशुतोष ने दो कॉन्फिडेंशियल पत्र टवीट कर कहा कि नजीब जंग ने PMO को दिल्‍ली के कई अधिकारियों की जानकारी दी है। इस टवीट को अरविंद केजरीवाल ने भी रिटवीट किया।

आम आदमी पार्टी से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

दिल्ली के गृहमंत्री सत्येंद्र जैन ने इस आरोप को निराधार बताया है। पीएमओ को जंग के पत्र के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मई में दिल्ली सरकार से अपने साथ प्रतिनियुक्त सभी अधिकारियों का ब्योरा देने को कहा था। संजय सिंह ने कहा कि भाजपा दिल्ली सरकार को काम न करने देने के एकमात्र एजेंडे के साथ केंद्र सरकार और अन्य संवैधानिक पदों का दुरुपयोग कर रही है। सिंह ने आरोप लगाया, मोदी सरकार उपराज्यपाल के जरिए दिल्ली पर शासन करने का प्रयास कर रही है।

उन्होंने केंद्र सरकार पर दिल्ली सरकार के जनहित से जुड़े कई विधेयकों और परियोजनाओं को मंजूरी न देने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा, मोदी सरकार और उपराज्यपाल का कार्यालय दिल्ली की जनता की जिंदगी दूभर करने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे। उन्होंने कहा, दिल्ली में कानून-व्यवस्था की गिरती स्थिति के लिए मोदी सरकार जिम्मेदार है, क्योंकि यहां पुलिस आप सरकार को रिपोर्ट नहीं करती।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App