ताज़ा खबर
 

दिल्ली के डिप्टी सीएम से पूछताछ पर AAP बोली- जो सोचते हैं CBI छापे से सिसोदिया डर जाएंगे वो गलतफहमी में हैं

सीबीआई के अधिकारियों के अनुसार, प्राथमिक जांच आम आदमी पार्टी (आप) के नेता व दिल्ली सरकार के दूसरे अधिकारियों के खिलाफ दायर की गई है।

Author नई दिल्ली। | June 16, 2017 7:19 PM
दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया। (PTI PHOTO)

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने ‘टॉक टू एके’ अभियान से संबंधित काम के ठेके देने में कथित तौर पर हुई अनियमितता को लेकर शुक्रवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के बयान दर्ज किए। सीबीआई के एक अधिकारी ने कहा, “टॉक टू एके कार्यक्रम घोटाले में दर्ज प्राथमिकी की जांच के लिए अधिकारियों का एक दल सिसोदिया के आवास पर उनका बयान दर्ज करने के लिए गया।” जांच एजेंसी के प्रवक्ता ने साफ किया कि सिसोदिया के घर पर अधिकारियों का जाना किसी तरह की छापेमारी या तलाशी नहीं है। वहीं, सीबीआई की ओर से की गई कार्रवाई पर आम आदमी पार्टी ने निशाना साधा है। आप ने अपने ट्वीट में लिखा- “अगर वह यह सोचते है कि सीबीआई के छापों के बाद सिसोदिया डर जाएंगे और सरकारी स्कूल के लिए काम करना बंद कर देंगे, तो वह गलतफहमी में हैं।” बता दें कि आम आदमी पार्टी और दिल्ली सरकार केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और भारतीय जनता पार्टी पर सीबीआई के दुरुपयोग का आरोप लगाते रहे हैं।

सीबीआई के प्रवक्ता आर.के. गौर ने बताया था कि, “सिसोदिया के घर पर कोई छापेमारी या तलाशी नहीं की गई है। सीबीआई टीम का दौरा जारी जांच के सिलसिले में खास मुद्दों पर स्पष्टीकरण के लिए था।” एजेंसी ने 18 जनवरी को सिसोदिया व राज्य सरकार के कुछ अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ ‘टॉक टू एके’ अभियान में कथित अनियमितताओं के जांच के लिए दायर शिकायत पर प्रारंभिक जांच के मद्देनजर यह कदम उठाया है। यह शिकायत दिल्ली सरकार के सतर्कता विभाग ने दर्ज कराई थी।

 

सीबीआई के अधिकारियों के अनुसार, प्राथमिक जांच आम आदमी पार्टी (आप) के नेता व दिल्ली सरकार के दूसरे अधिकारियों के खिलाफ दायर की गई है। इन पर ‘टॉक टू एके’ मीडिया अभियान से जुड़े कार्य के ठेके देने में हुई कथित अनियिमितता और नियमों के उल्लंघन के आरोप हैं। ‘टॉक टू एके’ अभियान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का एक बातचीत का कार्यक्रम था, जिसके जरिए लोग आप नेता से सोशल मीडिया के जरिए जुड़ सकते थे। सीबीआई दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार द्वारा अस्पतालों में दवा एवं अन्य उपकरण खरीदने, ठेके देने और नियुक्ति में कथित घोटाले की भी जांच कर रही है। दिल्ली में वाटर टैंक घोटाले की भी सीबीआई जांच कर रही है।

 

 

मनीष सिसोदिया के खिलाफ CBI जांच; ‘टॉक टू एके’ कार्यक्रम में अनियमितताओं का आरोप

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App