ताज़ा खबर
 

कैलाश मानसरोवर से लौट रहे दो सौ तीर्थयात्री नेपाल में फंसे

कैलाश मानसरोवर से लौट रहे दो सौ भारतीय तीर्थयात्री खराब मौसम के कारण नेपाल के सिमिकोट और हिलसा क्षेत्रों के पहाड़ी इलाकों में फंस गए हैं।

Author नई दिल्ली, 5 अगस्त। | Published on: August 6, 2018 4:49 AM
प्रतीकात्मक चित्र

कैलाश मानसरोवर से लौट रहे दो सौ भारतीय तीर्थयात्री खराब मौसम के कारण नेपाल के सिमिकोट और हिलसा क्षेत्रों के पहाड़ी इलाकों में फंस गए हैं। विदेश मंत्रालय के मुताबिक, मौसम साफ होते ही उनलोगों को वहां से निकालने का अभियान चलाया जाएगा। पिछले महीने भी खराब मौसम के कारण सैकड़ों तीर्थयात्री इन्हीं इलाकों में फंस गए थे। उन्हें कई दिनों तक चलाए गए अभियान में विशेष विमानों से निकाला गया था। विदेश मंत्रालय द्वारा जारी बयान के मुताबिक, सिमिकोट में 124 तीर्थयात्री और 50 तीर्थयात्री हिलसा तक पहुंचे हैं। लगभग 30 अन्य तीर्थयात्रियों के अगले 24 घंटे में हिलसा पहुंचने की संभावना जताई जा रही है, जो रास्ते में हैं। जुलाई में तीर्थयात्रियों के फंसने के बाद सिमिकोट में विदेश मंत्रालय ने कुछ अस्थाई इंतजाम किए हैं। वहां एक वक्त में पांच सौ तीर्थयात्रियों के रहने, भोजन और दवाओं का इंतजाम है।

नेपाल स्थित भारतीय दूतावास ने सिमिकोट, हिलसा और नेपालगंज में अपने प्रतिनिधि तैनात किए हैं, जो हालात पर नजर रख रहे हैं। साथ ही, तीर्थयात्रियों के साथ बने हुए हैं। मौसम साफ हो जाने पर एक दिन के भीतर सभी यात्रियों को वहां से छोटे हवाई जहाजों और हेलीकॉप्टरों के जरिए भारत पहुंचाया जा सकेगा। पश्चिमी नेपाल में बीते पांच दिनों से लगातार हो रही बारिश के कारण मौसम खराब हो गया है।

पिछली दफा दो जुलाई को सैकड़ों तीर्थयात्रियों के इन इलाकों में फंस जाने की खबरें आई थीं। उसके बाद विदेश मंत्रालय ने इन जगहों पर आपातकालीन नियंत्रण कक्ष स्थापित किए थे। तब 1430 तीर्थयात्रियों को विमानों एवं हेलीकॉप्टरों की 74 उड़ानों से निकाला गया था। हर साल नेपाल होकर हजारों भारतीय तीर्थयात्री चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र स्थित कैलाश मानसरोवर की यात्रा करते हैं। इसके अलावा विदेश मंत्रालय चीन की सरकार के साथ मिलकर लिपुलेख दर्रा (उत्तराखंड) एवं नाथु- ला पास (सिक्किम) होकर यह यात्रा आयोजित करता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 चोकसी के प्रत्यर्पण के लिए एंटीगुआ को सौंपा आवेदन, नागरिकता मामले में सेबी भी थमाएगा नोटिस
2 राज्‍यसभा टीवी में घोटाला? वेंकैया नायडू ने जांच के लिए कमेटी बनाई
3 न्याय की राहः जम्मू कश्मीर हाई कोर्ट को मिली पहली महिला जज, गीता मित्तल 90 साल में पहली महिला मुख्य न्यायाधीश