ताज़ा खबर
 

जेएनयू: बातचीत के लिए डीन ने बुलाया था मगर उन्‍हें गालियां देते हुए अभद्रता करने लगे छात्र, देखें वीडियो

जेएनयू की सिक्योरिटी यूनिट ने इस मामले में पुलिस में शिकायत दी है। 24 सेकेंड की वीडियो क्लिप में कुछ छात्र एक कमरे के बाहर भीड़ लगाए हुए थे, जबकि सुरक्षाकर्मी उन्हें वहां से हटाते नजर आ रहे थे। मगर छात्र वहां से टस से मस होते नहीं दिख रहे थे। क्लिप के अनुसार, दोनों पक्षों की बीच मामले की सुलह को लेकर एक शिक्षक ने भी हस्तक्षेप किया था।

जेएनयू में डीन के चैंबर के बाहर जुटे छात्रों को हटाने में जुटे सुरक्षकर्मी। (फोटोः एएनआई)

नई दिल्ली में जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्र अपने विरोध प्रदर्शनों के लिए जाने जाते हैं। मंगलवार को उन्होंने फिर कुछ ऐसा किया, जिसकी वजह से वे सुर्खियों में आ गए। छात्रों का एक समूह डीन के दफ्तर में विरोध प्रदर्शन के दौरान जा पहुंचा, जहां उन्होंने डीन को गालियां दीं, उनसे बदसलूकी और हाथापाई की। घटनास्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरे में ये पूरा वाकया कैद हो गया, जो अब सामने आया है। जेएनयू प्रशासन ने इस बाबत लिखित में अपनी ओर से बयान जारी किया है। वहीं, जेएनयू की सिक्योरिटी यूनिट ने इस मामले में पुलिस में शिकायत दी है। 24 सेकेंड की वीडियो क्लिप में कुछ छात्र एक कमरे के बाहर भीड़ लगाए हुए थे, जबकि सुरक्षाकर्मी उन्हें वहां से हटाते नजर आ रहे थे। मगर छात्र वहां से टस से मस होते नहीं दिख रहे थे। क्लिप के अनुसार, दोनों पक्षों की बीच मामले की सुलह को लेकर एक शिक्षक ने भी हस्तक्षेप किया था।

डीन के साथ इस बदसलूकी के मसले पर बाद में जेएनयू ने लिखित में बयान भी जारी किया था। कहा था, “12 मार्च को सुबह साढ़े 11 बजे डीन के चैंबर के बाहर जेएनयू छात्र संघ (जेएनयूएसयू) ने विरोध प्रदर्शन किया था। डीन ने इसी को लेकर उन्हें बातचीत के लिए बुलाया था। दोपहर ढाई बजे तो बातचीत हुई, तभी 15 से अधिक प्रदर्शनकारी छात्र अंदर घुस आए और वे हिंसक हो गए। वे जोर-जोर से नारेबाजी कर रहे थे। दरवाजे के बीच सोफ फंसा दिया था।”

बयान के मुताबिक, “डीन ने लंच पर जाना चाहा तो छात्रों ने उन्हें धक्का दिया। उनके साथ हाथापाई की और उन्हें गालियां दीं। तत्काल सुरक्षाकर्मियों ने हालात संभाले और डीन को वहां से सही-सलामत बाहर निकाला। बाद में उन्हें जेएनयू के हेल्थ सेंटर मेडिकल चेक-अप के लिए ले जाया गया।” जेएनयू प्रसाशन ने डीन के साथ हुई इस घटना की निंदा की है और कहा है कि छात्रों की ओर से इस प्रकार का रवैया बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सिक्योरिटी यूनिट की शिकायत पर मामला पुलिस में दर्ज हो गया है। अब चीफ प्रॉक्टर का दफ्तर इस मामले की जांच करेगा और आरोपियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App