ताज़ा खबर
 

मेडिकल परीक्षा: महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री ने छात्रों से की एमएच-सीईटी प्रवेश परीक्षा में बैठने की अपील

महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि राज्य सरकार NEET के संदर्भ में उच्चतम न्यायालय में पुनर्विचार याचिका दायर करेगी।

Author मुंबई | April 30, 2016 10:30 am
महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि राज्य सरकार NEET के संदर्भ में उच्चतम न्यायालय में पुनर्विचार याचिका दायर करेगी।

महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि राज्य सरकार NEET के संदर्भ में उच्चतम न्यायालय में पुनर्विचार याचिका दायर करेगी। उन्होंने कहा कि मेडिकल पाठ्यक्रमों में दाखिले के इच्छुक छात्रों को 5 मई को होने जा रही राज्य मेडिकल प्रवेश परीक्षा एमएच-सीईटी में उपस्थित होना चाहिए। तावड़े ने कहा कि एमएच-सीईटी तय कार्यक्रम के मुताबिक होगी। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “इसमें कोई बदलाव नहीं होगा। एमएच-सीईटी के लिए तैयारी कर चुके छात्रों को इसमें बैठना चाहिए। राज्य सरकार उच्चतम न्यायालय में पुनर्विचार याचिका दायर करेगी।”

Read Also: MBBS में प्रवेश के लिए NEET दो चरणों में ही होगी, सुप्रीम कोर्ट का अंतरिम आदेश से इनकार

उच्चतम न्यायालय ने आज कहा कि एमबीबीएस और बीडीएस पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा एकल साझा राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (NEET) के तहत एक मई और 24 जुलाई को होगी। तावड़े ने कहा कि एनईईटी में बैठने वाले छात्र पांच मई की एमएच-सीईटी में भी दाखिल हो सकते हैं।

Read Also: NEET: मेडिकल कोर्सेज में दाखिले की परीक्षा से जुड़े 5 अहम सवाल और उनके जवाब

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App