ताज़ा खबर
 

अब्‍दुल्‍ला की पार्टी के विधायक ने कहा- PDP और BJP ज्‍वाइन करोगे तो इस्‍लाम से हो जाओगे खारिज

नेशनल कांफ्रेंस के विधायक अकबर लोन ने बांडीपोरा में पार्टी के सम्‍मेलन में दिया विवादित बयान।

Author नई दिल्‍ली | December 30, 2017 8:35 PM
नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता और जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला। (File Photo)

फारूख अब्‍दुल्‍ला के विधायकों द्वारा विवादित बयान देने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। नेशनल कांफ्रेंस के एक विधायक ने एक बार फिर से भड़काने वाली बात बोली है। पार्टी के विधायक मोहम्‍मद अकबर लोन ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आरएसएस, पीडीपी और बीजेपी ज्‍वाइन करने वाले इस्‍लाम से खारिज हो जाएंगे। नेशनल कांफ्रेंस के विधायक पूर्व में भी विवादित बयान दे चुके हैं।

जानकारी के मुताबिक, नेशनल कांफ्रेंस के वरिष्‍ठ नेता अकबर लोन गुरुवार (28 दिसंबर) को बांडीपोरा में पार्टी की एकदिवसीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्‍होंने कहा था कि जम्‍मू-कश्‍मीर में सत्‍तारूढ़ पीडीपी ने लोगों को धोखा दिया है। पीडीपी पहले बीजेपी के खिलाफ वोट मांगती थी, लेकिन बाद में पार्टी ने आरएसएस को ज्‍वाइन कर लिया। उन्‍होंने लोगों से आह्वान किया था कि मुस्लिम विरोधी तत्‍वों का समर्थन करने वालों और गाय के नाम पर मुसलमानों की हत्‍या करने के खिलाफ वे सामने आएं। साथ ही लोगों को स्‍पष्‍ट शब्‍दों में चेतावनी दी थी कि पीडीपी या बीजेपी ज्‍वाइन करने वाले इस्‍लाम से खारिज हो जाएंगे। पार्टी नेताओं के अलावा फारूख अब्‍दुल्‍ला भी हाल के दिनों में विवादित बोल बोल चुके हैं।

नेशनल कांफ्रेंस के एक और विधायक जावेद राणा ने कुछ दिनों पहले ही एक कार्यक्रम में पुलिसकर्मियों और सेना के जवानों के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा बोल रहे थे। सुरक्षा में तैनात पुलिस अधीक्षक राजीव पांडे ने उन्‍हें मंच पर ही चुप करा दिया था। जावेद पूंछ जिले के मेंढर इलाके में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। एसपी ने नेशनल कांफ्रेंस के विधायक को ऐसी भाषा बोलने से रोक दिया था। कुलभूषण जाधव मामले में भी नेशनल कांफ्रेंस के नेता मुस्तफा कमाल ने बेतुके बोल बोले थे। उन्‍होंने कहा था कि कुलभूषण जाधव के साथ बुरा व्‍यवहार करने के दावे में दम नहीं है। इसको लेकर उनकी कड़ी आलोचना की गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App