ताज़ा खबर
 

नालंदा नाबालिग रेप पीड़िता ने CM को भेजा संदेश, कहा- जमानत कैसे मिल गई उसे, अब वो तो कुछ भी कर सकता है

पिछले सप्ताह विधायक राजबल्लभ यादव ने पटना हाईकोर्ट में जमानत के लिए याचिका दायर की थी।
Author पटना | October 5, 2016 19:37 pm
राजद से निलंबित विधायक राज बल्लभ यादव। (PTI File Photo)

नालंदा रेप पीड़िता नाबालिग ने अपनी और अपने परिवार की जान को खतरा बताया है। इस मामले के आरोपी नवादा से आरजेडी विधायक राजबल्लभ यादव को तीन दिन पहले ही पटना हाईकोर्ट ने जमानत दी है। साथ ही पीड़िता चाहती है कि सरकार उन्हें भरोसा दे कि वह उनके साथ रहेगी। पीड़िता ने सरकार से यह भी पूछा है कि आरोपी विधायक को कोर्ट से जमानत कैसे मिल गई। हालांकि, बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में विधायक की जमानत के चुनौती दी है। सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार की याचिका को बुधवार को स्वीकार भी कर लिया। बिहार सरकार पर विधायक की जमानत को चुनौती नहीं देने को लेकर विपक्षी दल काफी दबाव बनाए हुए थे।

वीडियो-पहली बार एलओसी के प्रत्यक्षदर्शियों ने बताई आंखों देखी, तड़के ट्रकों में भर कर ले जाई गई थी लाशें

पीड़िता ने स्थानीय मीडिया को वट्सऐप के जरिए मैसेज भेजा है। मैसेज में पीड़िता ने लिखा है, ‘अब वो तो कुछ भी कर सकता है, पुलिस भी उससे डरती है फिर हम लोग तो कुछ नहीं हैं। अब हमारे और हमारे परिवार को जीने का कोई मकसद ही नहीं रह गया है।’ पीड़िता चाहती है कि उसका यह मैसेज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर पहुंच जाए। पीड़िता ने लिखा है, ‘हम तो पहले ही मर चुके हैं हादसे के बाद। आप एक बार हमारी बात हमारे मुख्यमंत्री तक पहुंचा दीजिएगा। प्लीज हम एक बार यह पूछना चाहते हैं कि हम लोगों का क्या होगा। आगे कैसे रहेंगे। हम लोगों का करियर तो खत्म हो ही चुका है। अगर सरकार हमारे साथ है तो उसे जमानत कैसे मिल गई।’

Read Also: नाबालिग से रेप: निलंबित RJD MLA राज बल्‍लब यादव की संपत्ति जब्‍त, छावनी में तब्‍दील हुआ गांव

बता दें, पीड़िता कक्षा दस में पढ़ रही थीं और उसके साथ विधायक ने कथित रूप से फरवरी महीने में रेप किया था। नाबालिग की हादसे के बाद मनोचिकित्सकों से काउंसलिंग करवाई गई थी। इसके बाद पीड़िता ने दसवीं कक्षा का पेपर दिया था। एग्जाम में पीड़िता ने फर्स्ट डिविजन हासिल किया था।

Read Also: नाबालिग से बलात्‍कार के मामले में फरार MLA राज बल्‍लभ यादव को RJD ने सस्‍पेंड किया

हादसे के बाद आरोपी विधायक एक महीने तक फरार रहा। उसके बाद मार्च महीने में विधायक ने एक कोर्ट में सरेंडर कर दिया। जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया। पिछले सप्ताह विधायक यादव ने पटना हाईकोर्ट में जमानत के लिए याचिका दायर की थी। उसके बाद विधायक को कोर्ट ने जमानत दे दी। जैसे ही कोर्ट ने उसे जमानत दी, विपक्षी दल ने बिहार सरकार पर जमानत का विरोध नहीं करने का आरोप लगाना शुरू कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.