ताज़ा खबर
 

नगालैंड चुनाव: बिना वोटिंग ही विधायक बन गए एन. रियो, भाजपा खेमे के लिए खुशखबरी

विधानसभा चुनाव के लिए अब 195 उम्मीदवार मैदान में हैं। रियो के निर्वाचन के बाद राज्य की 59 विधानसभा सीटों पर चुनाव होना बाकी रह गया है। सभी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में वीवीपैट की सुविधा जोड़ी गई है ताकि मतदाता को यह पता चल सके कि उसने जिस उम्मीदवार को वोट दिया, वोट उसे ही मिला है।

Author February 13, 2018 1:06 PM
नगालैंड के पूर्व मुख्यमंत्री एन. रियो (फोटो सोर्स इंडियन एक्सप्रेस)

नेशनलिस्ट डेमक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) के उम्मीदवार और तीन बार मुख्यमंत्री रहे नेफियू रियो को कोहिमा जिले के उत्तर अंगामी-2 विधानसभा क्षेत्र से निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिए गया हैं। चुनाव आयोग ने उनके निर्वाचन की घोषण करते हुए कहा कि उनके प्रतिद्वंद्वियों ने अपना नामांकन वापस ले लिया। रियो के खिलाफ नामांकन वापस लेने वाले उम्मीदवारों में सत्तापक्ष नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) के उम्मीदवार चुफो अंगामी भी शामिल हैं। अंगामी रियो के बहनोई भी हैं और दोनों एक ही गांव से आते हैं। केंद्र की भाजपा सरकार ने पिछले सप्ताह एनपीएफ से गठबंधन तोड़ एनडीपीपी से साथ मिलाया है। ऐसे में नेफियू रियो के विधायक चुने जाने पर भाजपा खेमे में खुशी का माहौल देखा जा रहा है!

बीते सोमवार (11 फरवरी, 2018) को नगालौंड के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) ने बताया कि आखिरी दिन 32 उम्मीदवारों ने अपना नामांकन वापस लिया है। इसमें एनडीपीपी के दो उम्मीदवारों के नाम शामिल हैं। दो उम्मीदवार जेडीयू और कांग्रेस जबकि एक एनपीपी के उम्मीदवार ने अपना नामंकन वापस लिया है। नामंकन वापस लेने वाले में 26 निर्दलीय उम्मीदवार शामिल है। इस दौरान नगालैंड के सीईओ अभिजीत सिन्हा ने कहा कि रियो को निर्विरोध चुन लिया गया है क्योंकि अन्य उम्मीदवारों ने अपना नाम वापस ले लिया है। नियमों के मुताबिक अब उत्तर अंगामी-2 में विधानसभा के लिए मतदान नहीं होगा।

बता दें कि नगालैंड में विधानसभा चुनाव के लिए अब 195 उम्मीदवार मैदान में हैं। रियो के निर्वाचन के बाद राज्य की 59 विधानसभा सीटों पर चुनाव होना बाकी रह गया है। सिन्हा ने बताया कि सभी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में वीवीपैट की सुविधा जोड़ी गई है ताकि मतदाता को यह पता चल सके कि उसने जिस उम्मीदवार को वोट दिया, वोट उसे ही मिला है। सिन्हा ने आगे बताया कि राज्य में पांच लाख 89 हजार 806 महिलाओं समेत कुल 11 लाख 91 हजार 513 मतदान अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। मतदान के लिए राज्य भर में 2,196 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे और दो सहायक केंद्र भी बनाएं जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 केरल में मुस्लिम कार्यकर्ता का कत्ल, कांग्रेस बोली- सीपीएम ने मारा
2 सपा सांसद ने नरेंद्र मोदी के लिए बोला था जाति सूचक शब्द, पीएम के भाई ने दिया करारा जवाब
3 महिलाओं की चपेट में आ गए सरकारी अफसर, पीटा, कपड़े तक फाड़ डाले, देखती रही पुलिस