ताज़ा खबर
 

बिहार की राजनीति में “मिस्ट्री लेडी” की एंट्री, अखबारों में ऐड देकर पुष्पम प्रिया ने खुद को बताया सीएम कैंडिडेट

दरभंगा की रहने वाली पुष्पम प्रिया जेडीयू नेता विनोद चौधरी की बेटी है। उन्होंने ब्रिटेन की ससेक्स यूनिवर्सिटी से डेवलपमेंट स्टडीज में मास्टर्स हैं। पुष्पम प्रिया के फेसबुक पेज पर 1 लाख 25 हजार फॉलोअर्स हैं।

Bihar news, bihar politics, cm candidate, new bihar, bihar assambly election, jdu leader daughter, pushpam priya, plurals, today news, today news in hindi, hindi newsपुष्पम प्रिया ने अपनी पार्टी प्लूरल्स को सबसे प्रगतिशील राजनीतिक दल भी बताया है। (फोटोः फेसबुक)

बिहार की राजनीति में ‘मिस्ट्री लेडी’ पुष्पम प्रिया की एंट्री हुई है। प्रिया ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर बिहार के अखबारों में दो फुल पेज का ऐड देखकर  इस साल होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव में खुद को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बताया है। पुष्पम प्रिया को मिस्ट्री लेडी कहने के पीछे वजह है कि बिहार की राजनीति में अब तक नाम में यह नाम बिल्कुल अनजान था।

विज्ञापन में पुष्पम प्रिया ने लोगों से सवाल पूछा है कि आप बिहार से प्यार, राजनीति से नफरत करते हैं। उन्होंने PLURALS नाम के राजनीतिक दल में लोगों से शामिल होने की अपील की है। दरभंगा की रहने वाली पुष्पम प्रिया जेडीयू नेता विनोद चौधरी की बेटी है।

इतना ही नहीं पुष्पम प्रिया ने इसे सबसे प्रगतिशील राजनीतिक दल भी बताया है। विज्ञापन में खुद को पार्टी का अध्यक्ष बताते हुए सत्ता को वापिस लेने के लिए खुद के साथ जुड़ने की बात कही है। विज्ञापन के दूसरे पन्ने पर पुष्पम प्रिया ने जनगण, सबका शासन शीर्षक से एक संदेश भी लिखा है।

इसमें उन्होंने खुद को सीएम उम्मीदवार के रूप में पेश करते हुए कहा है कि उनका यह संदेश बिहार के लोगों और उनके बच्चों के बेहतर भविष्य की गारंटी है। इसमें बिहार को विकास के स्तर में 2030 तक किसी भी यूरोपीय देश के बराबर करने की बात कही गई है।

सोशल मीडिया पर भी इस ऐड और पुष्पम प्रिया को लेकर काफी चर्चा है। कई लोग इस विज्ञापन को शेयर कर रहे हैं। प्लूरल्स की वेबसाइट के अनुसार संस्था का परिचय एक राजनीतिक दल के रूप में दिया गया है। दल खुद को राजनीतिक क्रांति बताता है।

इसमें आजादी के 73 साल बाद भी बिहार के मौजूदा पिछड़ेपन, जाति बिरादरी की अलगाववादी सोच, आर्थिक विमर्श के विलुप्त होने के साथ ही भविष्य के विकसित बिहार की तमाम बातें कही गई हैं। वेबसाइट के अनुसार पुष्पम प्रिया ब्रिटेन की ससेक्स यूनिवर्सिटी से डेवलपमेंट स्टडीज में मास्टर्स हैं। उन्होंने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स एंड पॉलिटिकल साइंस से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेश में एमए भी किया है। पुष्पम प्रिया के फेसबुक पेज पर 1 लाख 25 हजार फॉलोअर्स हैं।

मालूम हो कि इसी तर्ज पर चुनावी रणनीतिकार व जनता दल यूनाइटेड के पूर्व उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने फरवरी में बिहार की राजनीति में युवाओं की भागीदारी के लिए ‘बात बिहार की’ कार्यक्रम की घोषणा की थी। इसके तहत राज्य के विभिन्न जिलों में युवाओं से संपर्क कर नया बिहार बनाने की बात कही गई थी।

Next Stories
1 TikTok video बनाने के लिए कार से की फायरिंग, पुलिस अफसर के फ्लैट में गई गोली, गिरफ्तार
2 वैलेंटाइन डे पर खुला धर्मेन्द्र का रेस्त्रां ‘ही मैन’ एक महीना पूरा होने से पहले सील, निर्माण कानून के उल्लंघन का मामला
3 मध्य प्रदेश: 10वीं बोर्ड परीक्षा में PoK को आजाद कश्मीर बता पूछे गए सवाल तो CM हो गए ट्रोल, कांग्रेस को लोग सुना रहे खरी खोटी
कोरोना LIVE:
X