ताज़ा खबर
 

यूपी: मनचले से परेशान 2 छात्राओं को छोड़ना पड़ा स्कूल, पुलिस ने आरोपी को दबोचा

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फनगर के सिभालका गांव में 9वीं की 2 छात्राओं को कतिथ तौर पर एक मनचले से परेशान होकर स्कूल छोड़ना पड़ा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मनचला स्कूल आते-जाते समय छात्राओं को रास्ते में छेड़ा करता था।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फनगर के सिभालका गांव में 9वीं की 2 छात्राओं को कतिथ तौर पर एक मनचले से परेशान होकर स्कूल छोड़ना पड़ा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मनचला स्कूल आते-जाते समय छात्राओं को रास्ते में छेड़ा करता था। पीड़ित छात्राओं के पिता की शिकायत पर पुलिस ने 22 वर्षीय आरोपी सुधीर कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक दोनों पीड़ित छात्राएं आपस में बहनें हैं और दोनों ही मनचले की करतूतों से परेशान थीं। दोनों छात्रों की उम्र क्रमश: 16 और 17 वर्ष बताई गई है। पुलिस ने रविवार (6 मई) को बताया कि दोनों छात्राएं सरकारी सहायता प्राप्त स्कूल में पढ़ रही थीं, जिन्होंने एक युवक के द्वारा रास्ते में यौन उत्पीड़न किए जाने से आजिज आकर स्कूल छोड़ दिया। पुलिस के मुताबिक आरोपी ने कई बार छात्राओं को उनके घर जाते वक्त रास्ते में छेड़ा। पीड़िता के पिता ने पुलिस में दर्ज अपनी शिकायत में बताया कि उनकी बेटियों ने बार-बार हो रहे यौन उत्पीड़न के कारण कई दिनों पहले स्कूल जाना छोड़ दिया था।

HOT DEALS
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16699 MRP ₹ 16999 -2%
    ₹0 Cashback
  • Lenovo K8 Plus 32 GB (Venom Black)
    ₹ 8499 MRP ₹ 10999 -23%
    ₹1275 Cashback

एक और शर्मनाक घटना झिझाना पुलिस थाने के इलाके में घटी, जहां एक नाबालिग लड़के ने कथित तौर पर एक दो वर्ष की बच्ची का बलात्कार करने की कोशिश की। पुलिस के मुताबिक यह घटना शनिवार (5 मई) की है। पुलिस के मुताबिक उसने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। सरकार ने हाल ही में देश में 12 साल तक की बच्चियों से रेप के मामलों में मृत्युदंड का प्रावधान रखा है, लेकिन इतने पर भी अपराधियों में खौफ नहीं देखा जा रहा है और रोजाना बच्चियों के साथ वहशीपन की खबरें सामने आ रही हैं।

पिछले दिनों रेप के मामलों के खिलाफ देश भर में खासा उबाल देखा गया था और सियासत से लेकर ग्लैमर इंडस्ट्री तक के लोगों ने जगह जगह कैंडल मार्च और अपनी तरह से विरोध प्रदर्शन किया था। विपक्ष के द्वारा लगातार निशाना बनाए जाने के बाद पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी रेप के मामलों पर चुप्पी तोड़ी थी और ऐसे कृत्यों की निंदा करते हुए अपराधियों को सजा देकर न्याय दिलाने की बात कही थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App