ताज़ा खबर
 

हापुड़: राम मंदिर का समर्थन करने पर फूंक दिया मुस्लिम महिला का घर, लिख गए- अब अपने राम को बुलाओ

उत्तर प्रदेश के हापुड़ में कुछ शरारती तत्वों ने कथित तौर पर राम मंदिर का समर्थन करने वाली एक मुस्लिम महिला का घर फूंक दिया। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक पीड़िता का नाम इकरा चौधरी है।

पीड़िता का घर। (फोटो सोर्स- एएनआई)

उत्तर प्रदेश के हापुड़ में कुछ शरारती तत्वों ने कथित तौर पर राम मंदिर का समर्थन करने वाली एक मुस्लिम महिला का घर फूंक दिया। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक पीड़िता का नाम इकरा चौधरी है। इकरा मुस्लिम महिला उत्पीड़न सेल की जिला प्रमुख हैं। उन्होंने दावा किया कि पिछले कुछ दिनों से उन्हें राम मंदिर मामले में शामिल होने पर कई लोगों से धमकियां मिल रही थीं। इकरा ने बताया, ”6 दिसंबर को मैंने राम मंदिर मुद्दे के संबंध में जिला मजिस्ट्रेट को एक ज्ञापन दिया था। तब से मुझे लगातार इस मामले को छोड़ने के लिए धमकियां मिल रही हैं, यहां तक कहा गया कि मैं हापुड़ छोड़कर चली जाऊं। मुझे डर है कि कहीं धमकी देने वालों के द्वारा मारी न जाएं।” इकरा के घर को सोमवार (15 जनवरी) को शरारती तत्वों ने आग के हवाले कर दिया था, जिसकी उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

इकरा ने आग के मलबे से एक धमकी भरी पर्ची मिलने का भी दावा किया है। इकरा ने बताया कि पर्ची में लिखा था- ”अब अपने राम को बुलाओ।” इकरा की मानें तो उन्होंने मामले की शिकायत के साथ इस पर्ची को भी पुलिस में जमा कराया था। इकरा ने कहा- ”पुलिस कह रही है कि मामले की जांच चल रही है। लेकिन चार दिनों में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। ऐसा लग रहा है कि पुलिस मामले को दबाना चाहती है।” वहीं, हापुड़ के डीएसपी राजेश कुमार ने कहा कि जांच की जा रही है। उन्होंने धमकी भरी पर्ची मिलने के बारे में इनकार किया।

बता दें कि एएनआई पर घर में लगाई गई आग की जो तस्वीर है, उसमें एक सोफा सेट जला हुआ दिखाई दे रहा है। मजे पर पानी एक खाली बोतल दिख रही हैं, बहुत संभावना है कि पानी की बोतल से आग बुझाने की कोशिश की गई हो। तस्वीर में सोफा का एकदम जला हुआ नजर आ रहा है। सोफे का बस फ्रेम ही बचा हुआ दिख रहा है। पुलिस दावा कर रही है कि गुनहगारों को बख्शा नहीं जाएगा, लेकिन अब तक इस मामले में कोई ठोस कार्रवाई होती न देख इकरा का पुलिस की जांच पर शक गहरा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App