ताज़ा खबर
 

योगी के मंत्री बोले- बीजेपी नहीं हैं मुसलमान विरोधी, नरेंद्र मोदी भी रखते हैं दाढ़ी

योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में मोहसिन रज़ा अकेले मुस्लिम मंत्री हैं। मंगलवार (3 जुलाई, 2018) को रज़ा ने कहा कि भाजपा मुस्लिम विरोधी पार्टी नहीं है। इसका कारण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दाढ़ी रखते हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी। (पीटीआई फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में मोहसिन रज़ा अकेले मुस्लिम मंत्री हैं। मंगलवार (3 जुलाई, 2018) को रज़ा ने कहा कि भाजपा मुस्लिम विरोधी पार्टी नहीं है। इसका कारण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दाढ़ी रखते हैं। आमतौर पर ऐसी मान्यता है कि दाढ़ी को इस्लाम का प्रतीक चिह्न समझा जाता है। रज़ा वर्तमान यूपी सरकार में हज और वक़्फ विभाग के राज्य मंत्री हैं।

उन्होंने पत्रकारों से बातचीत के दौरान ये बातें कहीं। मोहसिन रज़ा लखनऊ के अली मियां मेमोरियल हज हाउस में हज ट्रेनिंग और टीकाकरण कैंप के उद्घाटन के लिए आए थे। मोहसिन रज़ा ने कहा,”कुछ लोगों के द्वारा ऐसा माहौल पैदा कर दिया गया है कि भाजपा को मुस्लिम विरोधी पार्टी समझा जा रहा है। ये सच नहीं है। अगर बीजेपी मुस्लिम विरोधी पार्टी होती तो हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दाढ़ी नहीं रखते। दाढ़ी को आमतौर पर पवित्र इस्लाम और मुस्लिम समुदाय का प्रतीक समझा जाता है।”

मंत्री मोहसिन रज़ा ने एक बॉलीवुड फिल्म के डायलॉग का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा,”इस्लाम में दाढ़ी है, दाढ़ी में इस्लाम नहीं।” रज़ा ने कहा कि ये सही समय है जब अल्पसंख्यक शब्द को चलन से बाहर कर देना चाहिए क्योंकि भारत में मुस्लिमों की तादाद 20 करोड़ के आसपास है। उन्होंने कहा कि ये एक दूसरी बहस है कि हमें खुद अपना अल्पसंख्यक दर्जा छोड़ना चाहिए या नहीं। लेकिन मेरी राय में इस शब्द को खुद ही हमें उखाड़ फेंकना चाहिए।

उत्‍तर प्रदेश सरकार के इकलौते मुस्लिम मंत्री मोहसिन रज़ा। फोटो- ANI

हाल ही में मंत्री मोहसिन रजा मदरसों के आधुनिकीकरण पर दिए एक बयान के कारण सुर्खियों में आ गए थे। मोहसिन रज़ा ने कहा था कि उत्तर प्रदेश सरकार मदरसों में एनसीईआरटी की किताबों से पढ़ाई करवाना चाहती है। इसके अलावा वह मदरसों में सामान्य ड्रेस कोड भी लागू करना चाहती है। मोहसिन रजा के इस बयान का खंडन प्रदेश के अल्पसंख्यक मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने ये कहकर किया था कि सरकार ऐसी किसी भी योजना पर काम नहीं कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App