मुंबई में दरिंदगी की शिकार महिला ने तोड़ा दम, CM उद्धव ने कहा- मिलेगा न्याय; सोशल मीडिया पर फूटा लोगों का गुस्सा

Mumbai Rape Victim Died : मुंबई 34 वर्षीय बलात्कार पीड़ित महिला की मौत हो गई, जिसके साथ एक टेंपों के अंदर हैवानियत को अंजाम दिया गया था।

Mumbai Rape Case
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है।

मुंबई में दरिंदगी का शिकार हुए 34 वर्षीय बलात्कार पीड़िता की शनिवार सुबह मौत हो गई। महिला के साथ एक टेंपों में दरिंदगी की गई थी। पीड़िता की तबीयत शुक्रवार से ही बिगड़ने लगी थी, जिसको देखते हुए उसे वेंटिलेटर पर रखा गया था। गंभीर घाव लगने के कारण खून का बहाव थम ही नहीं रहा था। शनिवार सुबह पीड़िता ने अस्पताल में ही दम तोड़ दिया। वहीं दूसरी तरफ पुलिस ने इस मामले में 45 वर्षीय एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

इस घटना के खिलाफ सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा देखने को मिल रहा है। मुंबई पुलिस से लेकर सीएम उद्धव ठाकरे तक पर लोग अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। बताते चलें कि घटना शुक्रवार सुबह की है, पुलिस को सूचना मिली कि साकीनाका के खैरानी रोड पर एक शख्स महिला की बुरी तरह से पिटाई कर रहा है। पुलिस मौके पर पहुंची तो पीड़िता खून से लथपथ पड़ी थी। पुलिस पीड़िता को नगर निगम संचालित राजावाड़ी अस्पताल लेकर पहुंची। शुरुआती जांच में पता चला की पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में लोहे की रॉड से हमला किया गया है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय ने जानकारी दी है कि सीएम उद्धव ठाकरे ने (मुंबई रेप) घटना की पूरी जानकारी ली है और पुलिस कमिश्नर से चर्चा भी की है। उन्होंने कहा कि मामले को फास्ट ट्रैक पर लिया जाएगा और पीड़िता को न्याय मिलेगा। सीएम ने जांच में तेजी लाने का भी निर्देश दिया है।

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने पीड़िता की मौत पर दुख जाहिर करते हुए कहा कि यह जानकार बहुत दुख हुआ कि मुंबई में हैवानियत की शिकार हुई पीड़िता जिंदगी की जंग हार गई। पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करने में विफल रही। शर्मा ने बताया कि राष्ट्रीय महिला आयोग ने इस मामले पर स्वत: संज्ञान लिया है। साथ ही उन्होंने पुलिस से आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने और पीड़ित परिवार को हर संभव मदद की अपील की है।

वहीं बीजेपी नेता प्रीति गांधी ने ट्वीट कर कहा कि रेप पीड़िता ने दम तोड़ दिया लेकिन मुख्य आरोपी अभी भी फरार है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार पूरी तरह से विफल साबित हुई है, उन्हें जनता की कोई चिंता नहीं, किसी बात का कोई पछतावा नहीं है और न ही कोई जवाबदेही है।

शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने भी इस घटना पर दुख जाहिर किया है। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि मुंबई में महिला के साथ हुई दरिंदगी की घटना ने मुझे पीड़ी भी दी है और क्रोधित भी किया है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। शिवसेना नेता ने मुंबई पुलिस से अपील करते हुए कहा कि तेजी से कार्रवाई करते हुए

वहीं इस घटना से मुंबई वासी भी अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। @ErayCr नाम के यूजर लिखते हैं कि मुंबई की निर्भया की मौत हो गई। उसके साथ जिस तरह की हैवानियत हुई है, उसे लिखना भी मुश्किल है। ऐसी ही घटना पिछले दिनों पुणे में हुई थी, जोकि 8 दिनों बाद प्रकाश में आई थी, क्योंकि मीडिया ने चुप्पी साध रखी थी। उन्होंने कहा ऐसी घटनाओं पर न सिर्फ CM खामोश हैं बल्कि बॉलीवुड भी चुप्पी साधे बैठा है।

@rahul_adap नाम के यूजर ने लिखा कि मुंबई रेप पीड़िता की मौत हो गई, काश कुछ दिनों के लिए महाराष्ट्र का नाम उत्तर प्रदेश रख दिया जाता, तभी मीडिया मुंबई और पुणे जैसी हैवानियत के मुद्दे उठाएगा। उन्होंने कहा कि लुटियन मीडिया चुप है क्योंकि इस मामले में उनकी फेवरेट पार्टी और समुदाय के लोग शामिल हैं।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट