ताज़ा खबर
 

Mumbai Bridge Collapse: CST रेलवे स्टेशन के पास BMC का पुल गिरने से 6 की मौत, 33 घायलों में से 4 गंभीर

Mumbai CST bridge collapse Today: मुंबई में सीएसटी रेलवे स्टेशन के पास एक ब्रिज गिरा है। इस हादसे में रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। पुल का करीब 60 फीसदी हिस्सा धराशायी हो चुका है। मलबा हटाने का काम जारी है।

Author Updated: March 15, 2019 9:37 AM
मुंबई में हुए हादसे के बाद क्षतिग्रस्त ब्रिज की तस्वीर (फोटोः एएनआई)

Mumbai CST bridge collapse: महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में फुट ओवर ब्रिज गिरने से एक बड़ा हादसा हो गया, जिसमें अब तक तीन महिलाओं समेत 6 की मौत होने की जानकारी मिली है। मुंबई पुलिस के मुताबिक इस हादसे में 33 लोग घायल हुए हैं जिनमें से कुछ की हालत बेहद गंभीर बताई जा रही है। मुंबई मेट्रो के लिए काम में जुटे पांच मजदूरों के भी घायल होने की खबर है। गंभीर घायलों में इनमें से तीन शामिल हैं। वहीं घायलों को पास में स्थित सेंट जॉर्ज और जीटी अस्पताल ले जाए जाने की खबर है। रेस्क्यू ऑपरेशन के तहत काफी हद तक मलबा हटाया जा चुका है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक यह फुट ओवर ब्रिज सीएसटी (छत्रपति शिवाजी टर्मिनस) रेलवे स्टेशन के नजदीक स्थित था। रेलवे स्टेशन के उत्तरी छोर बने इस ब्रिज के माध्यम से लोग प्लेटफॉर्म नंबर एक पर जाता है। यह दुर्घटना गुरुवार (14 मार्च) की शाम को करीब 7:30 बजे हुई है।

हेल्पलाइन नंबरः जीटी अस्पताल – 022-22621465, सेंट जॉर्ज अस्पताल- 022-22620242

मृतकों में दो जीटी अस्पताल की कर्मचारीः मृतक महिलाओं की पहचान अपूर्वा प्रभु (35), सारिका कुलकर्णी और रंजना ताम्रे (40) के रुप में हुई है। ये तीनों ही जीटी अस्पताल की कर्मचारी बताई जा रही है। इनके अलावा तपेंद्र सिंह और जाहिद सिराज खान नाम के एक 35 वर्षीय शख्स की भी मौत हुई है।

घायलों की जानकारीः  मोहन (43 साल), नंदा कदम (57 साल), राकेश मिश्रा (40 साल), वल्लभ सोलंकी (50 साल), राहिद (35 साल), सुरेश बनर्जी (33 साल), अनिकेत जाधव (18 साल), रवि शेट्टी (24 साल), राजकुमार (उम्र पता नहीं), सुनील तोड़ोरकर, आयुषी, राणाराम कुकरेजा, संजय माझी, राकेश मिश्रा, सोनाली नावले, अद्वित नावले, राजेंद्र नावले और राजेश लोखंडे।

सरकार ने किया मुआवजे का ऐलानः सीएम देवेंद्र फड़णवीस ने उच्च स्तरीय जांच की बात कहते हुए मृतकों के परिजनों को पांच लाख रुपए के मुआवजे की मदद का ऐलान किया है। वहीं घायलों को 50-50 हजार रुपए दिए जाएंगे। उन्होंने ऑडिट पर भी सवाल उठाए हैं और जांच की बात कही है।

मौके पर कई एंबुलेंस मौजूद हैं। मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। सभी घायलों को नजदीक स्थित अस्पतालों में ले जाया जा रहा है। हादसे के चलते अफरातफरी का माहौल है। घटनास्थल पर काफी भीड़ जुट गई जिसके चलते रेस्क्यू में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यह ब्रिज रेलवे स्टेशन को बाहर की मुख्य सड़क से जोड़ता है। हादसे के बाद इलाके का ट्रैफिक डायवर्ट किया जा चुका है।

Mumbai Bridge Collapse मुंबई में गिरे ब्रिज के नीचे से ली गई तस्वीर (फोटोः एएनआई)

खतरनाक ब्रिज में शुमार नहीं था ये पुलः मुंबई नगर निगम (BMC) के इस ब्रिज का करीब 60 फीसदी हिस्सा धराशायी हो चुका है। चौंकाने वाली बात यह है कि इस ब्रिज का नाम खतरनाक ब्रिज की सूची में शुमार नहीं था। ऐसे में ब्रिज कैसे गिर गया इसे लेकर जांच के बाद ही कुछ जानकारी मिल पाएगी।

Mumbai Bridge Collapse ब्रिज गिरने के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन

बताया जा रहा है ब्रिज गिरने के वक्त उस पर करीब 40 से 50 लोग मौजूद थे। वहीं ब्रिज के नीचे कई वाहन भी थे जो दब गए हैं। प्रशासन के साथ-साथ आम लोगों ने भी रेस्क्यू में काफी मदद की। स्थानीय पार्षद का कहना है कि इसके ऑडिट के लिए सेंट्रल रेलवे से कहा गया था लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

 

बेहद पॉश है यह इलाकाः बताया जा रहा है कि घटनास्थल से महज चंद कदम की दूरी पर BMC का मुख्यालय भी मौजूद है। वहीं कई अन्य प्रमुख सरकारी दफ्तर भी इलाके में मौजूद हैं। ऐसे में यहां लोगों की बड़ी संख्या में आवाजाही लगी रहती है। बताया जा रहा है कि इस फुट ओवर ब्रिज पर खासी भीड़ होती है। शाम का वक्त होने के चलते यहां दफ्तर से आने जाने वालों की भी खासी भीड़ थी। मौके पर दमकल के कई वाहन मौजूद हैं। उल्लेखनीय है कि मुंबई में ब्रिज गिरने के हादसे लगातार सामने आ रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कांग्रेस नेता शीला दीक्षित बोलीं- आतंकवाद से निपटने में नरेंद्र मोदी की तरह मजबूत नहीं थे मनमोहन सिंह
2 WhatsApp पर कैसे बात कर रहे हैं ‘महागठबंधन के नेता’, शेयर हो रहा फनी VIDEO