ताज़ा खबर
 

Mumbai Bridge Collapse: पिछले साल ब्रिज हादसे के बाद हुआ था ऑडिट, BMC से 100 मीटर दूर इस पर पुल पर किसी ने नहीं दिया था ध्यान

Mumbai CST bridge collapse: मुंबई में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस रेलवे स्टेशन के पास फुट ओवरब्रिज गिरने से 6 की मौत जबकि 31 घायल हो गए। बता दें कि ये फुट ओवरब्रिज बीएमसी ऑफिस से महज 100 मीटर की दूरी पर है।

फुट ओवरब्रिज से 100 मीटर दूर है बीएमसी, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

Mumbai CST bridge collapse: मुंबई के सीएसटी रेलवे स्टेशन के पास फुटओवर ब्रिज गिरने से 6 लोगों की मौत हो गई। वहीं इस घटना में 31 लोगों के घायल होने की बात सामने आ रही है। इस हादसे को लेकर जो बड़ी बात सामने आ रही है वो ये कि ये पुल बीएमसी ऑफिस से महज 100 मीटर की दूरी पर है। इसके साथ ही इस पुल को करीब 6 महीने पहले ही ऑडिट रिपोर्ट में ‘फिट फॉर यूज’ बताया गया था।

क्या रिपोर्ट में गलती थी ?: बता दें कि बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) और हादसे वाले पुल के बीच की दूरी महज 100 मीटर है। बता दें कि दो साल पहले नगर पालिका ने कॉन्ट्रेक्टर्स नियुक्त कर मुंबई के 314 ब्रिज, सबवे और स्काइवॉक्स का ऑडिट करवाया था। वहीं लोअर परेल में एक बिज्र को डिस्मेंटल भी किया गया था चूंकि वो खतरनाक हालत में था। इसके साथ ही बीएमसी कमिश्नर अजोय मेहता ने बताया- मैंने स्ट्रक्चरल ऑडिट से जुड़े दस्तावेजों की कस्टडी मांगी है। एक बार जब मैं इनको देख लूंगा तो कार्रवाई का आगे का निर्णय लिया जाएगा … वहीं लापरवाही पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

महाराष्ट्र के सीएम का क्या है कहना: हादसे पर महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने शोक व्यक्त करते हुए कहा- यह गंभीर घटना है, मैंने उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। वहीं पुल के बारे में सीएम ने कहा कि पिछले साल ही ऑडिट में पुल को ठीक बताया गया था लेकिन उसको बाद भी अगर ऐसी घटना होती है तो मामला गंभीर है। जिम्मेदार लोगों से इस बारे में बात की जाएगी और दोषियों को सजा दी जाएगी। बता दें कि सीएम ने मृतकों के परिजनों के लिए 5 लाख और घायलों के लिए 50 हजार रुपए के मुआवजे की घोषणा भी की है। इसके साथ ही कहा कि घायलों के इलाज का पूरा खर्चा महाराष्ट्र सरकार उठाएगी।

पीएम मोदी ने भी किया ट्वीट: इस घटना पर पीएम मोदी ने भी दुख जताते हुए गुरुवार रात को ट्वीट किया। पीएम मोदी ने लिखा मुंबई में फुट ओवर ब्रिज ढहने से लोगों की मौत से शोकाकुल हूं। मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ है। सभी घायलों के जल्दी ठीक होने की कामना करता हूं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App