scorecardresearch

Mumbai Bridge Collapse: रेड सिग्नल ने यूं बचा लीं कई जिंदगियां, वरना और भयानक हो सकता था मंजर

Mumbai CST bridge collapse Today: मुंबई ब्रिज हादसे के वक्त कई लोगों की जान एक ट्रैफिक सिग्नल की वजह से भी बच गई। वरना मंजर और भयानक हो सकता था।

Mumba Red Light
मुंबई ब्रिज हादसे के बाद की तस्वीरें (फोटोः @Suryamariappa)

Mumbai CST bridge collapse: छत्रपति शिवाजी टर्मिनस से लगे फुट ओवर ब्रिज के गिरने से पांच लोगों की मौत हो गई, वहीं इसके नीचे दबने और ब्रिज के साथ गिरने से करीब 36 लोगों के घायल होने की खबर भी मिली है। घायलों में कुछ की हालत गंभीर बताई जा रही है। हादसे से जुड़ी कई जानकारियां सामने आई हैं। प्राप्त जानकारी के मुताबिक पता चला है कि जिस वक्त यह हादसा हुआ उस समय यहां इससे भी काफी ज्यादा भीड़ होती है लेकिन कुछ लोगों की जिंदगियों को थोड़ी दूर पड़ने वाले ट्रैफिक सिग्नल ने बचा ली। अन्यथा ये हादसा और भी भयानक हो सकता था।

दरअसल घटनास्थल से थोड़ी दूर कई दर्जन बाइक सवार सिग्नल के ग्रीन होने का इंतजार कर रहे थे। इसी दौरान ब्रिज भरभराकर गिर गया। यदि सिग्नल थोड़ी देर पहले ग्रीन हो गया होता तो कई और लग दब सकते थे। यह ब्रिज आजाद मैदान पुलिस थाने वाली सड़क से छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर एक को जोड़ता था।

 

रेड सिग्नल के चलते बचे एक प्रत्यक्षदर्शी ने मीडिया को बताया, ‘हम बेहद जल्दी में थे और सिग्नल ग्रीन होने का इंतजार कर रहे थे लेकिन इससे पहले ही ब्रिज गिर गया। अगर थोड़ी देर पहले सिग्नल ग्रीन होता तो हम भी वहां दब सकते थे।’ दरअसल यह बेहद व्यस्त समय होता है। कामकाजी दिन होने के चलते खासी भीड़ यहां से गुजरती है। मुंबई का सबसे बड़े रेलवे स्टेशन में शुमार होने के चलते यहां यात्रियों की भी खासी भीड़ मौजूद होती है। वक्त शाम का था ऐसे में दफ्तर से लौटने वालों की संख्या भी ज्यादा होती है। इनके अलावा यहां बीएमसी समेत कई बड़े निजी और सरकारी दफ्तर भी हैं।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X