ताज़ा खबर
 

Thane: 1.8 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के मामले में 3 गिरफ्तार, सिलसिलेवार तरीके से यूं करते थे ठगी

ठगों ने पीड़ितों से और लोगों को जोड़ने के लिए उन्हें तीन प्रतिशत की दर पर ब्याज देने का लालच भी दिया था। पीड़ितों ने पुलिस को बताया कि चैन के तौर पर उन्होंने दो और लोगों को भी इस स्कीम में जुड़वाया भी था।

प्रतीकात्मक फोटो (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

ठाणे में आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने 1.8 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। विंग के अनुसार आरोपियों ने 200 दिनों में 100 प्रतिशत ब्याज देने का वादा कर तीन लोगों को चूना लगाया है। पुलिस के अनुसार पीड़ितों ने मामले की शिकायत एक महीने पहले की थी। पुलिस को आशंका है कि इसमें और भी शिकायतें आ सकती हैं।

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार किए गए पांचों आरोपी देश के अलग-अलग कोनों से ठगी को अंजाम देते थे। पुलिस ने आरोपियों की पहचान ठाणे के प्रकाश मोरे (52), संदीप पाटिल (42), सूरत के उमंग शाह (27), नई दिल्ली के अजय जरीवाला (42) और मुंबई के रितेश पटेल (35) के रूप में की है। बताया जा रहा है कि आरोपियों ने खुद को रेड रॉक गेम, टिप्स जोन एडवाइजरी प्राइवेट लिमिटेड, क्रिप्टो ट्रेड और जिया कूल की कंपनियों के निदेशक और मालिक बताया था। ईओडब्ल्यू के अधिकारी के अनुसार पीड़ितों को 7.5 लाख रुपए जमा करने पर 200 दिन तक एक प्रतिशत की दर से ब्याज देने का वादा किया गया था। पीड़ितों को यह भी कहा गया था कि जमा राशि को 200 दिन के बाद ही निकाला जा सकता है।

National Hindi News, 05 April 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

 

ज्यादा लोगों को जोड़ने पर ज्यादा ब्याजः पुलिस के अनुसार ठगों ने पीड़ितों से और लोगों को जोड़ने के लिए उन्हें तीन प्रतिशत की दर पर ब्याज देने का लालच भी दिया था। पीड़ितों ने पुलिस को बताया कि चैन के तौर पर उन्होंने दो और लोगों को भी इस स्कीम में जुड़वाया था। वहीं पीड़ितों का आरोप है कि 200 दिन के बाद ठग दुकान बंदकर भाग गए और उनका फोन भी बंद हो गया था। पुलिस ने जांच में पाया कि मोरे और पाटिल खुद को कंपनी के निदेशक बताते थे, वहीं जरीवाला और पटेल लोगों को फंसाने का काम करते थे। जांच के दौरान यह भी खुलासा हुआ कि शाह के खाते में पीड़ितों द्वारा पैसे को जमा किया गया था और जिसे शाह ने बाद में निकालकर इस्तेमाल कर लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App