ताज़ा खबर
 

मुख्तार अब्बास नकवी समेत ये हैं राज्यसभा के लिए भाजपा के 12 उम्मीदवार

भाजपा ने बिहार भाजपा इकाई के पूर्व अध्यक्ष गोपाल नारायण सिंह को बिहार से अपना उम्मीदवार बनाया है। ऐसी अटकल थी कि पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी उस एक सीट के लिए पार्टी की पसंद हो सकते हैं, जो वह जीत सकती है।

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू, बीरेंद्र सिंह, निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल और मुख्तार अब्बास नकवी उन 12 उम्मीदवारों में शामिल हैं, जिन्हें भाजपा ने 11 जून को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है। ऊपरी सदन के लिए होने वाले इस द्विवार्षिक चुनाव के लिए पार्टी की ओर से मैदान में उतारे जाने वाले अन्य उम्मीदवारों में पार्टी के उपाध्यक्ष ओम प्रकाश माथुर और पुरुषोत्तम रूपाला भी शामिल हैं। इन्हें क्रमश: राजस्थान और गुजरात से नामित किया गया है।

भाजपा ने बिहार भाजपा इकाई के पूर्व अध्यक्ष गोपाल नारायण सिंह को बिहार से अपना उम्मीदवार बनाया है। ऐसी अटकल थी कि पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी उस एक सीट के लिए पार्टी की पसंद हो सकते हैं, जो वह जीत सकती है। नायडू, बीरेंद्र सिंह, सीतारमण, गोयल और नकवी क्रमश: राजस्थान, हरियाणा, कर्नाटक, महाराष्ट्र और झारखंड से उसके उम्मीदवार होंगे। अन्य उम्मीदवारों में हर्षवर्धन सिंह और राम कुमार वर्मा राजस्थान से, अनिल माधव दवे मध्य प्रदेश से और रामविचार नेताम छत्तीसगढ़ से शामिल हैं।

ऐसे में जब नामांकन दाखिल करने की आखिरी तिथि 31 मई है, भाजपा की ओर से बाकी उम्मीदवारों के नामों की घोषणा जल्द होना तय है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु का कार्यकाल भी समाप्त होने वाला है। उन्हें फिर से नामित किए जाने की उम्मीद है। भाजपा सूत्रों ने कहा कि पार्टी राम माधव और उपाध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धि भी पार्टी टिकट के दावेदारों में हैं। पत्रकार एमजे अकबर का राज्यसभा सदस्य के तौर पर कार्यकाल भी समाप्त हो रहा है।

द्विवार्षिक चुनाव 57 सीटों के लिए होने हैं। भाजपा के 14 सदस्यों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। महाराष्ट्र, झारखंड, राजस्थान और हरियाणा जैसे राज्यों में पार्टी की बड़ी ताकत के चलते उसके 18-19 सीटें जीतने की उम्मीद है।

 

Next Stories
1 जेएनयू में अध्यात्म और योग पढ़ाने की तैयारी
2 जज यौन उत्पीड़न पीड़ित का नाम सार्वजनिक न करें : कोर्ट
3 देश में 5,00,00,000 से ज्यादा ड्राइविंग लाइसेंस फर्जी, दस हजार रुपए तक बढ़ाया जा सकता है जुर्माना
ये  पढ़ा क्या?
X