ताज़ा खबर
 

अल्पसंख्यकों के विकास व विश्वास को कमजोर करना चिंताजनक : नकवी

मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक, देश के विकास के बराबर के हिस्सेदार-भागीदार हैं। उनके इस जज्बे का सम्मान करने की जरूरत है, उस पर प्रश्न चिन्ह लगाना उनकी राष्ट्रभक्ति के जुनून को ठेस पहुंचाना है।

Author नई दिल्ली | Published on: February 26, 2016 12:02 AM
केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (पीटीआई फोटो)

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कुछ तथाकथित सेक्युलर राजनीतिकपार्टियों द्वारा अल्पसंख्यकों के विकास और विश्वास को कमजोर करने की राजनीतिचिंता का विषय है। नकवी ने कहा कि कुछ सेक्युलर सियासी सूरमा अल्पसंख्यकों के कंधों पर रख कर सियासत की बंदूक चलाते हैं और वोटों का सौदा करने में ज्यादा यकीन रखते हैं न कि उनकी समृद्धि-सुरक्षा को मजबूत करने में। हमें सुरक्षा और समृद्धि के इस माहौल पर स्वार्थ की सियासत को हावी होने से रोकना होगा। अल्पसंख्यक राज्य मंत्री ने कहा कि भारत में अल्पसंख्यकों की राष्ट्रभक्ति और उनके द्वारा देश निर्माण के लिए किए गए कार्य को किसी के प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है, वह इतिहास की सच्चाई है और वर्तमान समय की हकीकत है।

उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक, देश के विकास के बराबर के हिस्सेदार-भागीदार हैं। उनके इस जज्बे का सम्मान करने की जरूरत है, उस पर प्रश्न चिन्ह लगाना उनकी राष्ट्रभक्ति के जुनून को ठेस पहुंचाना है। पिछले दिनों देश के कुछ स्थानों पर हुई अप्रिय घटनाएं, देश के सौहार्दपूर्ण माहौल को खराब करने, विकास और विश्वास की रफ्तार को रोकने की साजिश का हिस्सा हैं। मुट्ठी भर लोगों की इन हरकतों को परास्त करने की जरूरत है। इसके लिए एकजुटता और सौहार्द की ताकत जरूरी है। बिखराव और टकराव का रास्ता हमेशा शांति-सौहार्द और तरक्की के रास्ते का बाधक बनता है।

नकवी कहा कि समाज के प्रत्येक वर्ग का विकास हमारी सरकार का राष्ट्रधर्म है। ‘सबका साथ, सबका विकास’ कोई राजनीत्रि नारा नहीं है बल्कि यह हमारा संकल्प है, आखिरी व्यक्ति व विकास की रोशनी पहुंचाने का लक्ष्य है। राजग सरकार के पिछले लगभग दो वर्षों के दौरान इसी संकल्प और जज्बे के साथ मोदी सरकार ने अल्पसंख्यकों के सामाजिक-आर्थिक-शैक्षणिक सशक्तीकरण के लिए जो कदम उठाए हैं, उनका असर जमीन पर दिखने लगा है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने अल्पसंख्यकों के विकास के लिए प्रधानमंत्री का नया 15-सूत्री कार्यक्रम, बहु-क्षेत्रीय विकास कार्यक्रम, मिशन सशक्तीकरण, सीखो और कमाओे, उस्ताद, हमारी धरोहर, नई मंजिल, नई रोशनी, छात्रों के लिए छात्रवृत्ति, पढ़ो परदेश, जियो पारसी, जैसी योजनाएं शुरू की हैं। ये आखिरी व्यक्ति व विकास की रोशनी पहुंचाने के मजबूत कदम हैं।

मोदी सरकार द्वारा सत्ता के गलियारों से पावर ब्रोकर्स के खात्मे का नतीजा है कि आज केंद्र सरकार द्वारा अल्संख्यक समुदाय सहित सभी गरीब वर्गों के लिए भेजे जाने वाले धन का एक-एक पैसा इन तबकों के कल्याण पर खर्च हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा शुरू की गई इन योजनाओं से अल्पसंख्यकों के बीच एक विश्वास, उम्मीद का मौहाल तैयार हुआ है। हमारी सरकार यह भरोसा दिलाती है कि किसी भी नकारात्मक एजंडे को सुशासन-विकास के एजंडे पर हावी नहीं होने दिया जाएगा। अल्पसंख्यकों की सुरक्षा, समृद्धि और सम्मान के मजबूत संकल्प के साथ हम आगे बढ़ रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories