scorecardresearch

MP: जिसे बीजेपी नेता ने मुस्लिम समझकर पीटा, वो खुद था भाजपा लीडर का भाई; मां भी है सरपंच

भोपालः मृतक भंवरलाल के भाई राजेश जैन ने बताया कि आरोपी बीजेपी से जुड़ा है तभी बुल्डोजर उसके घर जाने के बाद लौट आया।

MP, Bhanwar lal, Rajesh jain, BJP leader, Muslim, News 24, CM Shivraj singh
मप्रः मृतक भंवर लाल के परिजन। फोटोः NEWS 24 VIDEO)

मध्यप्रदेश में पिछले दिनों बीजेपी कार्यकर्ता ने जिस बुजुर्ग को मुस्लिम समझकर पीटा उसका भाई भी बीजेपी नेता है। एक न्यूज चैनल की खबर के मुताबिक परिजनों का कहना है कि हमारा पूरा परिवार बीजेपी से जुड़ा है। 90 साल की मां सरपंच हैं तो चचेरा भाई पूर्व बीजेपी का ही पार्षद है। उनका सवाल है कि आखिर क्यों उनके परिवार के बुजुर्ग की हत्या की गई।

मृतक भंवरलाल के भाई राजेश जैन ने बताया कि वो तीन भाई हैं। भंवर लाल उनके सबसे बड़े भाई थे। वो परिवार के साथ धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने चित्तौड़गढ़ गए भंवरलाल। वहां से लापता हो गए थे। पुलिस को उनकी गुमशुदगी की इत्तला दे दी थी। उनका कहना है कि आरोपी बीजेपी से जुड़ा है तभी बुल्डोजर उसके घर जाने के बाद लौट आया।

ध्यान रहे कि नीमच जिले के मनासा में बुजुर्ग भंवरलाल चत्तर नाम के शख्स की संदिग्ध मौत हो गई। वह रतलाम के सरसी गांव के थे। मनासा में उनका शव गुरुवार शाम मिला। उनकी मौत को लेकर कयास लग ही रहे थे कि मारपीट का एक वीडियो सामने आ गया है। जो व्यक्ति की बुजुर्ग भंवरलाल के साथ मारपीट कर रहा है वह मनासा का भाजपा नेता दिनेश कुशवाह है।

सोशल मीडिया पर लोग आरोपी शख्स पर बिफर पड़े। आलोक मिश्रा ने कहा कि दम है शिवराज सरकार में तो चलाओ उस हत्यारे के घर पे बुलडोजर। एक ने लिखा कि दगांबाजो के साथ रहोगे तो परिणाम तो भुगतना पड़ता है ना। डॉ. जगत के हैंडल से शायराना अंदाज में ट्वीट किया गया कि बड़े ज्ञानी और ध्यानी
कह गए है एक वाणी। पाप की आंच घूम फिर कर अपने पर ही है आणी। सनातन धर्मी ने लिखा कि आग लगेगी तो घर जलेगे ही। चिंगारी के लिए ना कोई अपना है ओर ना पराया उसको नही दिखता किसका घर है। चंद छोडे़ हुए गुर्गे कब और कहां किसको अपनी चपेट मे लेगे कोई नही जानता।

नौशाद शेख ने लिखा कि तो क्या पार्टी हित को देखते हुए भंवरलाल जी की हत्या को बलिदान समझा जाए,क्यों की मारने वाला मरने वाला दोनों BJP का नेता समर्थक है। मार दिया जाने वाला मुस्लिम होता तो अभी तक मार दिए जाने पर ही लांछन लगाकर झूठा इल्ज़ाम लगाकर उसे ही दोषी ठहरा दिया गया होता और हत्यारे को राष्ट्रवादी। नुरुल हसन ने लिखा कि अब तो इंडिया में भी कानून होना चाहिए जान के बदले जान तभी देश सुधरेगा वरना ना जाने कितने लोग अपना परिवार का सदस्य खोते रहेंगे।

रंजीत यादव ने लिखा कि इसी बात पर एक शायर याद आ गया “लगेगी आग तो आएंगे कई घर जद में यहॉं पर सिर्फ हमारा मकान थोड़े है” और फैलाओ नफरत जब खुद पे आएगा तभी समझोगे। एक ने लिखा कि कुदरत का करिश्मा देखिए….बाहर फैलाई आग घर में कैसे फ़ैल गई पता भी नहीं चला। हमारा भारत ऐसा तो नहीं है, दुःखद।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X