ताज़ा खबर
 

एमपीः गृहमंत्री ने दिया विवादित बयान, बोले- कांग्रेस शासित सूबों से फैला कोरोना, हमारे यहां भी महाराष्ट्र से आया वायरस

मंत्री के इस बयान पर कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट कर उनको तुरंत पद से हटाने की मांग की है। उन्होंने इसे शर्मनाक बयान बताया।

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा। (फाइल फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री ने राज्य में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के लिए महाराष्ट्र समेत कांग्रेस शासित राज्यों को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि कोरोना के वायरस वहीं से दूसरे राज्यों में गए हैं। इसकी वजह से ही पूरे देश में समस्या है। इस बीच मध्य प्रदेश में कोरोना के नए केसों में कुछ कमी आई है। उनका कहना है कि राज्य सरकार के कड़े कदम और कर्फ्यू लगाने से यह राहत मिली है।

राज्य के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पार्टी को इस पर सोचने की भी सलाह दे दी। उन्होंने कहा, “कांग्रेस के शासन वाले महाराष्ट्र, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और पंजाब में बीमारी और महामारी सबसे ज्यादा है। हमारे राज्य में यह वायरस महाराष्ट्र से आया है। हम इसके लिए किसी को दोष नहीं देते, क्योंकि यह वैश्विक महामारी है, लेकिन जिस तरह से मध्य प्रदेश सरकार पर सवाल उठाते हो, ट्वीट करते हो, क्लिपिंग बनाकर जारी करते हो, इसके बारे में अंतर्मुखी होकर सोचो तो अच्छा रहेगा।”

उनके इस बयान पर कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट कर उनको तुरंत पद से हटाने की मांग की है। उन्होंने इसे शर्मनाक बयान बताया। ट्वीट में लिखा, “अति शर्मनाक, ये है प्रदेश के गृहमंत्री के कोरोना को लेकर विचार? पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार में लगकर कोरोना फैलाने वाले ये जिम्मेदार अब कोरोना को लेकर प्रदेशों को बांट रहे हैं। तेरा प्रदेश-मेरा प्रदेश बता रहे हैं? एमपी में कोरोना की दूसरी लहर का जिम्मेदार महाराष्ट्र को बता रहे हैं?”

मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोविड-19 के 9,715 नए मामले आने के बाद प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मंगलवार को भोपाल में कहा कि प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण लगातार कम हो रहा है। मिश्रा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘सोमवार को कोरोना के नए प्रकरण 10,000 के नीचे आ गए हैं। पिछले तीन-चार दिनों से प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामले निरंतर कम होते जा रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के प्रदेश में सोमवार को 9,715 नए प्रकरण आये हैं, जबकि उस दिन 8,400 से अधिक लोग इस बीमारी से उबरे हैं।

मिश्रा ने बताया, ‘‘कोरोना वायरस संक्रमण के मामले शहरों में कम हो रहे हैं। इस महामारी का ग्रामीण इलाकों में अभी असर है, लेकिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रयासों से इसे काबू में लाया जा रहा है।’’ उन्होंने कहा कि 18 से 44 वर्ष के आयुवर्ग के 150 लोग कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण के लिए पंजीयन करवाने के बाद भी टीका लगवाने नहीं आये, जिससे 150 टीके बर्बाद हो गये। हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि ये टीके कब और कहां बर्बाद हुए।

Next Stories
1 बिहार से आईं कोरोना काल की सबसे भयावह तस्वीर, पुल से फेंके जा रहे शव, नदी में तैरती मिलीं दर्जनों लाशें
2 वैक्सिनेशन सेंटर पर भीड़ के सवाल पर बोले यूपी के हेल्थ मिनिस्टर- संक्रमण की तेज रफ्तार से लोगों में भय का माहौल
3 MP: थाने से 500 मीटर दूर बन रहे थे अवैध पटाखे, अचानक विस्फोट; 1 परिवार की औरतों की मौत
यह पढ़ा क्या?
X