ताज़ा खबर
 

रेवाड़ी गैंगरेप: पीड़‍िता की मां ने लौटाया मुआवजे का चेक, कहा- पहले दरिंदों को पकड़ो

हरियाणा में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार पीडि़ता के परिजनों में मुआवजे का चेक लौटा दिया। पीडि़ता की मां का कहना है कि हमें पैसा नहीं इंसाफ चाहिए।

रेवाड़ी गैंगरेप पीडि़ता की मां ने मुआवजे की राशि लौटाई (Photo: ANI)

हरियाणा के महेंद्रगढ़ में एक लड़की को अगवा कर गैंगरेप करने के आरोपियों को पुलिस अभी तक गिरफ्तार नहीं कर पायी है। हालांकि, आरोपियों की पहचान कर उनकी तस्वीरों को जारी किया गया है और उनका सुराग देने वालों को एक लाख ईनाम देने की घोषणा की गई है। बावजूद आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से परिजन आक्रोशित हैं। उन्होंने मुआवजे का चेक लौटा दिया है। उनका कहना है कि हमें पैसा नहीं इंसाफ चाहिए। पुलिस पहले उन दरिंदों को पकड़ कर लाए, जिन्होंने यह काम किया है। पीडि़ता की मां ने बताया कि, ” कल (15 सितंबर) कुछ अधिकारी हमारे घर आए थे और मुझे मुआवजा राशि का चेक दिया। मैं आज इसे वापस कर रही हूं। हमें इंसाफ चाहिए, पैसा नहीं। घटना के पांच दिन हो चुके हैं, लेकिन एक भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। पुलिस पहले उन दरिंदों को पकड़े।”

गौरतलब है कि लड़की से दुष्कर्म के आरोपी एक सैन्यकर्मी और दो अन्य फरार हैं। राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने मामले की जांच से यथाशीघ्र अवगत कराने के निर्देश दिए हैं। एक शीर्ष कमांडर ने कहा कि जांच में सेना पुलिस की मदद करेगी। हरियाणा पुलिस ने विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वालों को एक लाख रूपये इनाम देने की घोषणा की है।
लड़की के पिता ने कहा है कि हो सकता है आठ से 10 लोगों ने उससे बलात्कार किया हो लेकिन वह उनमें से केवल तीन लोगों की ही पहचान कर पायी है। लड़की अपने स्कूल की टॉपर रही है।

हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बी एस संधू ने शनिवार को बताया कि युवती से कथित रूप बलात्कार के तीन आरोपियों में से एक राजस्थान में पदस्थ सैन्यकर्मी है और उसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीम भेजी गयी है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘तीन आरोपियों में से एक सैन्यकर्मी है और पुलिस का दल उसे गिरफ्तार करने को राजस्थान गया है। मुझे विश्वास है कि उसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा।’’ जयपुर में, भारतीय सेना की दक्षिण पश्चिम कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल चेरिश मेथसन ने कहा कि बलात्कार मामले में अगर कोई सैन्यकर्मी संलिप्त पाया जाता है तो सेना आरोपी को सजा दिलवाने में मदद करेगी। राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने घटना की निंदा की है और हरियाणा के पुलिस प्रमुख से जांच के बारे में यथाशीघ्र अवगत कराने के निर्देश दिए हैं। (एजेंसी इनपुट के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App