ताज़ा खबर
 

मां ने एक साल से ‘कूड़े के ढेर’ में बेटी को कर रखा था कैद, रोज देती थी नींद की गोलियां

लड़की की मां अपनी एक अन्य बेटी के साथ पास ही के एक अन्य फ्लैट में रहती थी।

Author Updated: May 8, 2017 1:26 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली में शनिवार (छह मई) रात को एक हृदयविदारक वाकया सामने आया। पूर्वी दिल्ली के गणेश नगर के ए दो कमरे के फ्लैट से पुलिस ने एक 17 वर्षीय मानसिक रूप से अस्वस्थ किशोरी को बरामद किया है। पुलिस के अनुसार महिला को करीब एक साल से फ्लैट में कैद करके रखा गया था। पुलिस ने स्थानीय नागरिकों की शिकायत पर फ्लैट में जांच के लिए पहुंची थी। जब पुलिस फ्लैट में पहुंची तो उसे चारों तरफ कूड़े का ढेर लगा मिला और पूरे फ्लैट में केवल एक टेबल फैन के अलावा कोई भी यांत्रिक सामान नहीं था।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार लड़की की मां अपनी एक अन्य बेटी के साथ पास ही के एक अन्य फ्लैट में रहती थी। लड़की की मां दिन में दो बार आकर उसे खाना देकर जाती थी। मानसिक रूप से अस्वस्थ किशोरी की मां उसे दिन में केवल एक बार पानी देती थी। किशोरी की मां कथित तौर पर उसे खाने मे नींद की गोलियां मिलाती थी ताकि वो दिन भर सोती रही।

किशोरी की मां का अपने पति से साल 2011 में तलाक हो गया था। दिल्ली की एक स्थानीय अदालत में गुजारा-भत्ता का मुकदमा अभी चल रहा है। रिपोर्ट के अनुसार 10वीं तक पढ़ाई करने वाली लड़की को कुछ साल पहले तक घर से बाहर देखा जाता रहा था। एक पड़ोसी ने टीओआई को बताया कि उसने कुछ साल पहले लड़की और उसकी बहन को देखा था उसके बाद उसने पुलिस के छापे के बाद ही उसे देखा।

लड़की की मां दो साल पहले इस फ्लैट में रहने आई थी। लड़कियों की मां उनके पिता को उनसे कोई संपर्क नहीं रखने देती थी। लड़की के पिता ने टाइम्स ऑफ इंडिया अखबार से बातचीत में कहा कि उन्हें अपनी बेटियों से बात भी नहीं करने दिया जाता था। लड़की के पिता के अनुसार उनके कई बार फोन करने पर भी उन्हें कोई जवाब नहीं मिलता था। उन्होंने कई बार पत्र भी लिखे जिनका जवाब नहीं आया।

जब एक पड़ोसी ने लड़की को भोर के समय रोते हुए सुना तो उसने इमारत के नीचे स्थित दुकानदार को इसके बारे में बताया। पड़ोसियों ने अगली सुबह खाना देने आयी लड़की से इस बारे में बात की तो उसने उन्हें चुप रहने के लिए पैसे देने की बात कही। पड़ोसियो को लड़की की मंशा पर संदेह हुआ और उन्होंने पुलिस को सूचित कर दिया। जब पुलिस फ्लैट में जाने की कोशिश कर रही थी तब लड़की की मां और उसकी बहन पुलिस को रोकने के लिए लगातार बहस करती रहीं थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories