scorecardresearch

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री बोले- RJD जीती तो कश्मीर से भागकर आतंकी बिहार में शरण लेंगे, तेजस्वी बोले- बेरोजगारी, गरीबी के आंतक पर क्या कहेंगे

बिहार में विधानसभा चुनाव के नजदीक आने के साथ ही विवादास्पद बयानों का दौर शुरू हो गया है।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री बोले- RJD जीती तो कश्मीर से भागकर आतंकी बिहार में शरण लेंगे, तेजस्वी बोले- बेरोजगारी, गरीबी के आंतक पर क्या कहेंगे
बिहार चुनाव से पहले नित्यानंद राय ने विवादित बयान दिया है। (फाइल फोटो)

बिहार में विधानसभा चुनाव की सरगर्मियों के बीच राजनीतिक बयानबाजी जारी है। अब केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने यह कह कर विवाद बढ़ा दिया है कि अगर राजद बिहार में अगला विधानसभा चुनाव जीत गई, तो जम्मू-कश्मीर के आतंकी बिहार में शरण लेने लगेंगे। बिहार से सांसद और भाजपा नेता राय ने यह बयान वैशाली के महनर विधानसभा क्षेत्र में एक रैली के दौरान दिया।

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री राय के इस बयान पर महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार और राजद नेता तेजस्वी यादव ने पलटवार किया। तेजस्वी ने कहा कि बिहार में इस वक्त बेरोजगारी दर 46.6 फीसदी पर है। उनका (राय का) बेरोजगारी, गरीबी और भुखमरी के आतंक पर क्या कहना है? आखिर उनकी डबल इंजन की सरकार ने 15 साल में क्या किया? यह उनकी एजेंडे से भटकाने की कोशिश है, जबकि हम यह चुनाव सिर्फ एजेंडे पर ही लड़ना चाहते हैं।

गौरतलब है कि राय का यह विवादास्पद बयान 2015 के उस बयान की तरह ही है, जिसमें भाजपा के एक नेता ने कहा था कि अगर महागठबंधन बिहार में चुनाव जीतता है, तो पाकिस्तान में पटाखे फोड़े जाएंगे। बता दें कि तब जदयू, राजद और कांग्रेस महागठबंधन का हिस्सा थीं, जबकि भाजपा अकेले ही चुनावी मैदान में थी।

भाजपा ने कहा- बयान को तोड़ा-मरोड़ा जा रहा: भारतीय जनता पार्टी के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव ने नित्यानंद राय के बयान पर सफाई जारी की। उन्होंने कहा, “नित्यानंद जी के बयान का तात्पर्य है कि देश में आतंकवाद के खिलाफ जो लड़ाई लड़ी जा रही है उसे भारतीय जनता पार्टी पूरी मजबूती के साथ लड़ रही है। निश्चित रूप से नागरिकों की सुरक्षा का विषय है। मैंने जहां तक देखा हो उनका बयान तोड़ा-मरोड़ा गया है। उनकी जो भावना थी, वो राष्ट्रीय सुरक्षा के संदर्भ में थी।”

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.