ताज़ा खबर
 

Monsoon: स्काइमेट का अनुमान 4 जून को केरल पहुंचेगा मानसून, सामान्य से कम बारिश के आसार

मौसम के बारे में जानकारी देने वाली प्राइवेट एजेंसी स्काईमेट ने मंगलवार (14 मई) को मानसून को लेकर अपना पूर्वानुमान जारी किया।

प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंस्टाग्राम (juztclicks)

Monsoon 2019: मौसम के बारे में जानकारी देने वाली प्राइवेट एजेंसी स्काईमेट ने मंगलवार (14 मई) को मानसून को लेकर अपना पूर्वानुमान जारी किया। स्काईमेट के अनुमान के मुताबिक इस साल मानसून सामान्य से कम (91% वर्षा) रहने की आशंका है। मानसून 2019 केरल तट पर 4 जून को पहुंच सकता है। हालांकि अधिकांश मॉडल यह संकेत कर रहे हैं कि भारतीय उप-महाद्वीप में मानसून आगमन के समय कमजोर रहेगा। बताया जा रहा है कि इस बार कम बारिश का अनुमान 50 फीसदी, जबकि सूखे का अनुमान 20 प्रतिशत है।

सबसे पहले अंडमान फिर केरल पहुंचेगा मानसून: बता दें कि भारत में सबसे पहले मानसून अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह क्षेत्र में आता है। लेकिन इस बार यहां मानसून 22 मई को दस्तक दे सकता है जहां आमतौर पर 20 यह मई को दस्तक देता था। स्काइमेट के अनुसार, केरल में मानसून 4 जून को दस्तक दे सकता है हालांकि इसमें 2 दिन आगे-पीछे हो सकता है। गौरतलब है कि इसी दौरान पूर्वोत्तर भारत के हिस्सों में भी मानसून आ जाएगा।

सामान्य से कम रहेगा मानसून: स्काइमेट के अनुमान के मुताबिक इस साल देश में मानसून सामान्य से कम रह सकता है। जहां जून-सितंबर के मध्य पूर्व और उत्तर-पूर्व क्षेत्र में मानसून सामान्य का 92 फीसदी रहने की आशंका है तो वहीं मध्य भारत में सामान्य का 91 फीसदी और उत्तर-पश्चिम क्षेत्र में सामान्य का 96 फीसदी रहने की आशंका है। चारों क्षेत्रों में मानसून का अनुमान 8 फीसदी ऊपर या नीचे रहने की संभावना है।

 

सामान्य से कम बारिश: स्काईमेट के एमडी जतिन सिंह के मुताबिक मानसून 2019 भारत के सभी चारों क्षेत्रों में बारिश सामान्य से कम रहने की आशंका है। मानसून के केरल में 4 जून को आने के बाद शुरुआती रफ्तार काफी धीमी होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X