ताज़ा खबर
 

बिल्डर से घूस मांगने के आरोप में भाजपा पार्षद का पिता गिरफ्तार

22 अगस्त को विक्की रिश्वत लेते हुए पकड़ाया गया था, जबकि मोहन सुमरा वहां से फरार होने में कामयाब हो गए थे। एसीबी सूरत के डिप्टी डायरेक्टर इनचार्ज एनपी गोहिल ने बताया, 'हमारी टीम नैन्सी सुमरा के घर गई थी, लेकिन वह वहां नहीं थीं।'

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

गुजरात में सूरत नगर निगम की पार्षद नैन्सी सुमरा के पिता मोहन सुरमा को घूस लेने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। यह गिरफ्तारी एंटी-करप्शन ब्यूरो (एसीबी) द्वारा सोमवार (27 अगस्त) को की गई है। मोहन सुमरा के ऊपर आरोप है कि उन्होंने स्थानीय बिल्डर से 75,000 रुपए की घूस ली थी। एसीबी के मुताबिक मोहन सुमरा और उनके बेटे विक्की ने हाल ही में एक स्थानीय बिल्डर से मुलाकात की थी और उसे बताया था कि सैयदपुरा क्षेत्र में उसकी जो नई आवासीय परियोजना चल रही है उसका कुछ हिस्सा अवैध है।

इसके साथ ही बीजेपी पार्षद के पिता और भाई ने बिल्डर से कहा था कि अगर वह चाहता है कि उसके निर्माण कार्य को गिराया न जाए तो 75 हजार रुपए देने होंगे। बिल्डर ने तुरंत ही दोनों को 20, 000 रुपए दे दिए और वादा किया कि वह जल्द ही बाकी की रकम भी चुकता कर देगा। बाद में बिल्डर ने एसीबी के अधिकारियों से संपर्क किया और एसीबी ने फिर इस मामले में जाल बिछाते हुए पार्षद के पिता और भाई को पकड़ा।

22 अगस्त को विक्की रिश्वत लेते हुए पकड़ाया गया था, जबकि मोहन सुमरा वहां से फरार होने में कामयाब हो गए थे। एसीबी सूरत के डिप्टी डायरेक्टर इनचार्ज एनपी गोहिल ने बताया, ‘हमारी टीम नैन्सी सुमरा के घर गई थी, लेकिन वह वहां नहीं थीं। फिलहाल इस मामले में हम यह नहीं कह सकते कि नैन्सी सुमरा इसमें शामिल है या नहीं। एक बार जब हम उनका पता लगा लेंगे, तब उनका बयान जरूर लिया जाएगा।’

हाल ही में राजस्थान में भी एसीबी की टीम ने बीजेपी नेता को गिरफ्तार किया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक ब्यावर नगर परिषद सभापति बबीता चौहान को 80 लाख रुपे की रिश्वत लेते हुए एसीबी द्वारा गिरफ्तार किया गया था। एसीबी के अधिकारियों ने मौके से सवा दो लाख रुपए और बाकी पैसों के कागजात भी बरामद किए थे। बबीता चौहान के अलावा उनके पति नरेंद्र चौहान और एक बिचौलिए शिवप्रसाद को भी गिरफ्तार किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 रामदेव की पतंजलि के खिलाफ जनहित याचिका लगाने को भरने होंगे 10 हजार रुपये, कोर्ट ने कहा- वक्त खराब किया
2 सबसे सुरक्षित तिहाड़ जेल से उम्रकैद का कैदी सुबह हुआ फरार, शाम को अफसरों को लगी भनक
3 पंजाब सीएम बोले- 1984 के सिख दंगों से कांग्रेस का कोई लेना-देना नहीं, कुछ नेता निजी तौर पर संलिप्त