ताज़ा खबर
 

स्वाति मालीवाल का आरोप- जिस्मफरोशी कराते हैं मोदी सरकार के एक मंत्री, जांच रुकवाने के लिए कराई मुझ पर FIR

मालीवाल ने कहा, 'ये धंधा इतना गंदा धंधा है कि यहां पर 8-8, 10-10 साल की बच्चियों के साथ बलात्कार होता है। उनकी बोली लगती है और पहली रात की बोली लाखों में लगती है।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल (फाइल फोटो)

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने गुरुवार को दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेन्स की। इसमें उन्होंने कहा, ‘ मैं ये समझने की कोशिश कर रही हूं कि हजारों करोड़ रुपये का जिस्मफरोशी का धंधा खुलेआम दिल्ली में संसद से तीन किलोमीटर की दूरी पर कैसे चल रहा है। यहां पर हर रात कम से कम पांच करोड़ का बिजनेस हो रहा है। ये जानने की हम कोशिश कर रहे थे किनके संरक्षण में इतना बड़ा धंधा चल रहा है। मुझे जांच के दौरान बहुत ही पुख्ता संकेत मिले हैं कि केन्द्रीय सरकार के एक मंत्री हैं और देश की एक प्रमुख पार्टी के दिल्ली के एक बड़े नेता हैं जिनके संरक्षण में ये पूरा गोरखधंधा चल रहा है। हमने यह जानने की कोशिश की कि कौन इन कोठों का मालिक है। अभी जांच चल ही रही थी और हमारे को ये संकेत मिलने शुरू हुए थे कि अचानक मेरे ऊपर एक एफआईआर दर्ज की जाती है, बिल्कुल फर्जी एफआईआर दर्ज की जाती है और अब मुझे ये संकेत दिए जा रहे हैं, बहुत लोगों से मैसेजेज आ रहे हैं कि मुझे अब ये अरेस्ट करेंगे और एलजी के माध्यम से ये नेता मिलकर दिल्ली महिला आयोग से मुझको निकाल देंगे।’

मालीवाल ने कहा, ‘ये धंधा इतना गंदा धंधा है कि यहां पर 8-8, 10-10 साल की बच्चियों के साथ बलात्कार होता है। उनकी बोली लगती है और पहली रात की बोली लाखों में लगती है। एक-एक महिला को 30-30 आदमियों के साथ सोना पड़ता है। ये गोरखधंधा, ये काला धंधा इतने बड़े-बड़े लोगों के संरक्षण से हो रहा था, यह सुनकर मैं बिल्कुल चौंक गई हूं। अब मैं भगवान से प्रार्थना करती हूं कि ये जो मुझे जो संकेत मिल रहे हैं, वो गलत हों। पर प्रश्न तो उठते हैं? क्योंकि संसद से तीन किलोमीटर पर चल रहा है। एमसीडी को हम बार-बार बोल रहे हैं कि ये सब ई-लीगल चल रहा है, इसे तोड़ो, यहां के तहखानों को तोड़ो, एमसीडी कोई एक्शन नहीं ले रही। तो ये पूरा का पूरा एक संगठित बिजनेस है जिसकी एक रात की कमाई पांच करोड़ है। तो ये पैसा कहां जा रहा है? अब’मुझे बार-बार मैसेज मिल रहे हैं कि जीबी रोडवाली दलदल में मत पड़ो।’

गौरतलब है कि भ्रष्टाचार निरोधक शाखा (एसीबी) ने दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्लू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के खिलाफ आयोग की भर्तियों में कथित अनियमितता मामले में प्राथमिकी दर्ज की है। मालीवाल के खिलाफ भ्रष्टाचार, आपराधिक विश्वासघात और आपराधिक साजिश रचने संबंधी धाराएं लगाई गई हैं। इस संबंध में सोमवार को करीब दो घंटे तक डीसीडब्लू कार्यालय में स्वाति मालीवाल से पूछताछ भी की गई थी। इस मामले में एफआईआर में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का नाम भी जोड़ा गया है।

Read Also-स्वाति मालीवाल के खिलाफ दर्ज FIR में केजरीवाल का नाम, PM नरेंद्र मोदी पर भड़के

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App