ताज़ा खबर
 

प्रियंका गांधी का बंगला BJP सांसद अनिल बलूनी को मिला

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने बीते बुधवार को टाइप 6 बी बंगले का आवंटन रद्द कर दिया था जहां कांग्रेस महासचिव रह रही हैं।

bjp leader, Anil Baluniभाजपा के राज्य सभा सांसद और पार्टी प्रवक्ता अनिल बलूनी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने दिल्ली में 35, लोधी स्टेट स्थित सरकारी बंगला BJP के राज्य सभा सांसद और पार्टी प्रवक्ता अनिल बलूनी को आवंटित किया है। फिलहाल इस बंगले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी रहती हैं, पर बुधवार को केंद्र ने नोटिस भेज उनसे बंगला खाली करने को कहा है। बता दें कि बलूनी मौजूदा समय में 20, गुरुद्वारा रकाब गंज में स्थित टाइप-6 बंगले में रहते हैं।

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय में एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम जाहिर करने की गुजारिश करते हुए अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट द प्रिंट को बताया कि बलूनी ने मंत्रालय से कुछ समय पहले अपने गुरुद्वारा रकाब गंज रोड बंगले को बदलने का अनुरोध किया था। संपदा निदेशालय जो कि आवास मंत्रालय के अंतर्गत आता है, सरकारी बंगलों के आवंटन का काम संभालता है।

मामले में अधिकारियों ने बताया कि दोनों बंगलों के आवंटन में किसी भी नियम का उल्लंघन नहीं किया गया क्योंकि 20, गुरुद्वारा रकाब गंज रोड और 35, लोधी एस्टेट, टाइप 6 बी श्रेणी के हैं और एक सांसद इन बंगलों में रहने का हकदार है।

Bihar Election 2020 Live Updates

अधिकारी ने आगे कहा कि राज्यसभा सांसद को स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या है और उन्होंने कुछ महीने पहले बंगले को बदलने का अनुरोध किया है। उनके अनुरोध को स्वास्थ्य के आधार पर मान लिया गया है।

बता दें कि बलूनी को 2019 के आखिर में कैंसर का पता चला और मुंबई में उसका इलाज किया गया। भाजपा सूत्रों ने बताया कि वो तब से ठीक हैं। पार्टी के सबसे मुखर प्रवक्ताओं में से एक बलूनी मार्च 2018 में उत्तराखंड से राज्यसभा के लिए चुने गए थे।

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने बीते बुधवार को टाइप 6 बी बंगले का आवंटन रद्द कर दिया था जहां कांग्रेस महासचिव रह रही हैं। बंगला खाली करने के लिए उन्हें एक अगस्त तक का समय दिया गया है।

मंत्रालय ने कहा है कि प्रियंका गांधी के पास Z+ सुरक्षा है और नियमों के अनुसार ऐसे व्यक्तियों को सरकारी बंगले आवंटित करने का कोई प्रावधान नहीं है जब तक कि केंद्रीय गृह मंत्रालय उचित खतरे के आधार पर उनके लिए सिफारिश नहीं करता। बंगला कांग्रेस महासचिव को साल 1997 में आवंटित किया गया था जब उन्हें एसपीजी सुरक्षा मिली थी। चूंकि, उनके पास अब एसपीजी सुरक्षा नहीं है इसलिए बंगले का आवंटन रद्द किया गया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 रेड की भनक लगते ही विकास दुबे ने जमा कर लिए थे 25-30 लोग, की अंधाधुंध फायरिंग, गिरफ्तार साथी ने बताई पूरी कहानी
2 Bihar Election: बिहार में राजग में कोई दरार नहीं, कांग्रेस-राजद अफवाह फैला रहे हैं: नित्यानंद राय
3 Bihar, Jharkhand Coronavirus : 73.90 प्रतिशत है बिहार का रिकवरी रेट, अबतक 2,57,896 टेस्टट्यूब सैम्पल की जांच हुई
ये पढ़ा क्या?
X