ताज़ा खबर
 

झारखंड में एक और लड़की को बलात्‍कार के बाद जिंदा जलाया, जिंदगी से जूझ रही

पीड़िता के परिवार की ओर से पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत में बच्चन को मुख्य आरोपी बताया गया था। परिवार का कहना है कि जब लड़की घर में अकेले थी, उस वक्त मौका देखकर बच्चन घर में घुस गया और उसका रेप किया। उसके बाद उसने लड़की के ऊपर मिट्टी तेल डालकर उसे जिंदा जलाकर मारने की भी कोशिश की।

रेप की घटनाओं का विरोध करते प्रदर्शनकारी (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

झारखंड के चतरा में एक नाबालिग लड़की का रेप और मर्डर होने घटना के महज दो दिन बाद एक और रेप की वारदात सामने आई है। राज्य के पाकुर जिले के एक गांव में 16 साल की एक लड़की का रेप कर उसको जिंदा जलाने की कोशिश की गई है। लड़की 70 फीसदी जल चुकी है और इस वक्त उसकी हालत बेहद गंभीर है। पीड़िता इस वक्त जिंदगी और मौत को बीच जूझ रही है।

पीड़िता का इलाज पश्चिम बंगाल के बेरहमपुर जिले के एक अस्पताल में किया जा रहा है। पाकुर जिला झारखंड की राजधानी रांची की अपेक्षा बेरहमपुर के ज्यादा नजदीक है। झारखंड में एक हफ्ते के अंदर रेप और उसके बाद मर्डर का यह दूसरा केस सामने आया है। चतरा में हुई वारदात के बाद शनिवार को इस केस के संबंध में पुलिस ने 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकुर में नाबालिग बच्ची का रेप शुक्रवार को हुआ था, लेकिन इसकी रिपोर्ट शनिवार को की गई। पुलिस ने इस केस में पीड़िता के पड़ोसी बच्चन मंडल के खिलाफ केस दर्ज करते हुए उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

HOT DEALS
  • BRANDSDADDY BD MAGIC Plus 16 GB (Black)
    ₹ 16199 MRP ₹ 16999 -5%
    ₹1620 Cashback
  • Micromax Vdeo 2 4G
    ₹ 4650 MRP ₹ 5499 -15%
    ₹465 Cashback

पीड़िता के परिवार की ओर से पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत में बच्चन को मुख्य आरोपी बताया गया था। परिवार का कहना है कि जब लड़की घर में अकेले थी, उस वक्त मौका देखकर बच्चन घर में घुस गया और उसका रेप किया। उसके बाद उसने लड़की के ऊपर मिट्टी तेल डालकर उसे जिंदा जलाकर मारने की भी कोशिश की। पाकुर के उप-मंडल पुलिस अधिकारी श्रवण कुमार ने बताया, ‘पुलिस ने एक टीम का गठन कर दिया है और उसे बेरहमपुर भेज दिया गया है। वहां एक प्राइवेट अस्पताल में पीड़िता का इलाज किया जा रहा है। पुलिस की टीम वहां पीड़िता का बयान रिकॉर्ड करेगी।’ कुमार ने बताया, ‘सदर पुलिस स्टेशन के प्रभारी निरीक्षक-सह-अधिकारी इंदू शेखर झा को यह केस सौंप दिया गया है। अब वह इसकी आगे जांच करेंगे। POCSO एक्ट और आईपीसी की कुछ धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया गया है।’

बता दें कि पीड़िता कक्षा दसवीं की छात्रा है और वह अपने अंकल के घर में रहकर पढ़ाई कर रही थी। पीड़िता के परिवार वालों ने बताया कि घटना के वक्त पीड़िता घर में अकेली थी। कुमार ने बताया कि लड़की के परिवार की ओर से दायर की गई शिकायत के आधार पर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App