ताज़ा खबर
 

JNU कैंपस से नाबालिग लड़की को अगवा कर सामूहिक बलात्कार, चार आरोपी गिरफ्तार

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर के आवास पर घरेलू सहायिका का काम करने वाली 17 साल की लड़की को विश्वविद्यालय परिसर के बाहर से कथित तौर पर अगवा कर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया..

Author नई दिल्ली | January 20, 2016 12:57 AM
समीना बेगम को खाना भी ठीक से नहीं दिया जाता था। (प्रतीकात्मक फोटो)

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर के आवास पर घरेलू सहायिका का काम करने वाली 17 साल की लड़की को विश्वविद्यालय परिसर के बाहर से कथित तौर पर अगवा कर उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया। पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) प्रेम नाथ ने बताया कि घटना में शामिल पांच लोगों में से चार को हिरासत में ले लिया गया है। पुलिस के अनुसार सोमवार शाम करीब साढ़े चार बजे जब लड़की विश्वविद्यालय के बाहर जूते-चप्पल के एक स्टोर पर गई तो वहां एक लड़के ने उसे कार में बैठने के लिए मनाया। लड़की उसे पहले से जानती थी। लड़की जब कार में बैठी तो उसने देखा कि अंदर कुछ युवक पहले से मौजूद हैं।

युवकों ने लड़की को कथित रूप से नशीला पेय पदार्थ पिला दिया और जब वह सो गई तो मुनिरका में एक किराये के कमरे में उसके साथ कथित तौर पर बलात्कार किया। बाद में लड़की को जब होश आया तो उसे पहले से जानने वाले लड़के ने स्कूटर पर बिठाकर उसे विश्वविद्यालय परिसर छोड़ दिया। बाद में लड़की के पेट में दर्द हुआ और उसे अस्पताल ले जाया गया। वहां बलात्कार की पुष्टि हुई।

HOT DEALS
  • Panasonic Eluga A3 Pro 32 GB (Grey)
    ₹ 9799 MRP ₹ 12990 -25%
    ₹490 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

इस घटना के विरोध में जेएनयू के छात्रों और शिक्षकों के एक समूह ने वसंत कुंज थाने के समक्ष प्रदर्शन किया। जेएनयू छात्र संघ के संयुक्त सचिव सौरभ शर्मा ने बताया, ‘‘ यह घटना दिखाती है कि हमने 16 दिसंबर की सामूहिक बलात्कार की घटना से कुछ नहीं सीखा। हम आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हैं और कल (बुधवार) वाइस चांसलर के समक्ष भी यह मुद्दा उठाएंगे।’’

प्रेमनाथ ने बताया, ‘‘ आईपीसी और पोक्सो कानून की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। अभी तक गिरफ्तार किए गए चार आरोपियों से पूछताछ की जा रही है तथा एक टीम पांचवें आरोपी की तलाश में जुटी है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App