ताज़ा खबर
 

दलाल को बेटी सौंप 40 हजार रुपए महीना लेती थी मां! नाबालिग ने किया बड़े सेक्स रैकेट का भांडाफोड़

एसपी शालिनी अग्निहोत्री ने बताया कि पीड़ित लड़की के बयान के आधार मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी मूल रूप से पंजाब के जिराकपुर का निवासी है। सोमवार कोर्ट में पेश करने के बाद उसे तीन दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की एक नाबालिग लड़की ने अपनी मां गंभीर आरोप लगाए हैं। लड़की का कहना है कि उसकी मां ने उसे पैसे के लालच में जिस्मफरोशी के धंधे में धकेल दिया। इसके बदले में आरोपी महिला दलाल से चालीस हजार रुपए महीना वसूल रही थी। पीड़ित लड़की ने पुलिस को बताया कि उसे दो दलानों ने एक महीना पहले खरीदा था। बाद में जबरन उसे जिस्मफरोशी के धंधे में धकेल दिया गया। बीते शनिवार को जब दलालों ने उसे एक ग्राहक के पास भेजा तो पीड़ित वहां से भाग निकली। बाद में वह किसी तरह मनाली के निजी हॉस्पिटल में पहुंची। जहां उसने वहां मौजूद लोगों से मदद की गुहार लगाई। इसपर बच्ची की मदद के लिए चाइल्डलाइन 1098 नंबर डायल किया गया। सूचना मिलने के बाद घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने रविवार (29 अप्रैल, 2018) को आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं और POCSO एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है।

कुल्ली की एसपी शालिनी अग्निहोत्री ने बताया कि पीड़ित लड़की के बयान के आधार मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी मूल रूप से पंजाब के जिराकपुर का निवासी है। सोमवार कोर्ट में पेश करने के बाद उसे तीन दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। एसपी ने बताया कि पीड़ित का कहना है जिस्मफरोशी के लिए एक महीना पहले अन्य लड़कियों को भी मनाली लाया गया है। लड़की के बयान के मुताबिक इनमें कुछ लड़कियां नाबालिग हो सकती हैं। आईपीसी की धारा 164 के तहत पीड़ित लड़की का बयान मंगलवार को दर्ज कर लिया गया है।

एसपी ने आगे बताया कि इसकी काफी संभावनाएं हैं कि सेक्स रैकेट का संबंध दिल्ली हो। पुलिस की टीम गंभीरता से इसकी छानबीन कर रही है। गौरतलब है कि पिछले कुछ सालों में कुल्लू पुलिस ने कई सेक्स रैकेटों का भंडाफोड़ किया है। इस दौरान कई महिलाओं को आजाद कराया गया। सूत्रों ने बताया कि दलाल जिस्मफरोशी के लिए बड़ी तादाद में लड़कियों को खरीदकर लाते हैं। इनमें विदेशी महिलाओं की भी अच्छी खासी तादाद होती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App