ताज़ा खबर
 

यूपीः जो SDM करते थे प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित, उन्होंने ही अपने अफसरों के खिलाफ खोला मोर्चा, DM आवास पर दिया धरना, सस्पेंड

इस मामले को लेकर डीएम ने एसडीएम के खिलाफ सरकार को एक रिपोर्ट भी भेजी है, राज्य सरकार ने SDM को सस्पेंड करते हुए स्पष्टीकरण देने के लिए कहा है।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र लखनऊ | Updated: September 26, 2020 2:32 PM
UP Gpvernment, Pratapgarhडीएम बंगले के बाहर धरने पर बैठे एसडीएम। (फोटो- Twitter)

कोरोनाकाल के बीच जहां एक तरफ सरकारें अधिकारियों से मिल-जुल कर काम करने और व्यवस्थाओं को संभालने की अपील कर रही हैं, वहीं कुछ जगहों पर प्रशासनिक अधिकारी अपने ही सीनियर अफसरों के खिलाफ मोर्चा खोल रहे हैं। उत्तर प्रदेश में भी प्रशासनिक अधिकारियों के बीच तनातनी का एक नया मामला सामने आया है। यहां एक एसडीएम ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया, जिसके बाद राज्य सरकार ने एसडीएम को सस्पेंड कर उसकी हरकत के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

दरअसल, मामला प्रतापगढ़ का है। यहां के एसडीएम का आरोप है कि लालगंज इलाके में स्कूल के पट्टा आवंटन में भ्रष्टाचार हुआ है और इस खेल में डीएम, एडीएम और जिले के दूसरे आला-अधिकारी भी शामिल हैं। हालांकि, जिला प्रशासन का कहना है कि लालगंज में तैनाती के वक्त उपाध्याय का वकीलों से झगड़ा हो गया था और उन्होंने अपनी सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों की बंदूक छीनकर उन्हें धमकाने का प्रयास किया था। इसी मामले की जांच में एसडीएम को नोटिस भेजा गया, जिससे वे नाराज हो गए।

बताया गया है कि एसडीएम विनीत उपाध्याय इसी के विरोध में उपाध्याय डीएम रुपेश कुमार के बंगले के बाहर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। वे धरने पर अपनी पत्नी और बच्चों के साथ बैठे थे। करीब 4 घंटे तक दफ्तर के बाहर ही बैठे रहने के बाद आला-अफसरों ने उन्हें समझा-बुझाकर वापस भेजा। इस दौरान खबर मीडिया तक न पहुंच पाए, इसके लिए जिला प्रशासन ने डीएम बंगले के बाहर पुलिस तैनात कर मामले को दबाने की काफी कोशिश की। हालांकि, मामला खुलने के बाद प्रतापगढ़ के एडीएम शत्रोहन वैश ने कहा कि उपाध्याय ने उनके और डीएम के खिलाफ कुछ आरोप लगाए हैं। इसे लेकर डीएम रुपेश कुमार ने एसडीएम के खिलाफ सरकार को एक रिपोर्ट भी भेजी है। बाद में राज्य सरकार ने उन्हें सस्पेंड करते हुए स्पष्टीकरण देने के लिए कहा।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 MP By Elections: ‘प्रियंका BJP की चुनौती नहीं, Congress के लिए पनौती’, बोले BJP नेता- जो UP में उनके जाने से हुआ वो MP में भी हो
2 घटिया दवा दे रहा गुजरात आयुष विभाग- CAG ने खोली सरकारी स्वास्थ्य सेवा की पोल
3 यूपीः हाथरस में 19 साल की दलित लड़की का गैंगरेप, दरिंदों ने काट दी जीभ, गले में भी गंभीर चोटें; 4 सवर्णों के खिलाफ केस
यह पढ़ा क्या?
X