X

वीडियो: फोन पर सम्मान न मिलने से महिला आयोग की सदस्य बिफरीं, एसपी से हुई जमकर बहस

वीडियो में सुषमा साहू ने एसपी सिटी को खरी-खोटी सुनाते हुए कहा, 'आपने न जय हिंद कहा, न नमस्ते किया, एक औपचारिकता होती है। आपने कहा कि आप मेरी कोई सीनियर नहीं हैं।' महिला आयोग की सदस्य के आरोपों पर सफाई देते हुए अमरकेश ने कहा कि वह बहुत बेरुखी से बात कर रही थीं।

बिहार की राजधानी पटना से दो सरकारी अधिकारियों के बीच बहस होने का बेहद ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां केंद्रीय महिला आयोग की सदस्य सुषमा साहू और पटना सिटी एसपी डी अमरकेश के बीच जमकर बहस हुई है। बहस का मुद्दा भी केवल इतना था कि एसपी सीटी ने फोन पर हुई बातचीत के दौरान सुषमा साहू को नमस्ते या जय हिंद नहीं बोला था। दरअसल, एक केस के सिलसिले में सुषमा साहू पटना के सीआईडी एडीजी कार्यालय पहुंची थीं, यहां उनकी मीटिंग सीआईडी एडीजी विनय कुमार और डी अमरकेश से होनी थी।

कार्यालय में तीनों अधिकारियों के साथ वे लोग भी मौजूद थे, जिनके केस के सिलसिले में मीटिंग होनी थी, लेकिन मीटिंग शुरू होने से पहले ही सुषमा साहू ने सिटी एसपी के आरोप लगाया कि उन्होंने फोन में हुई बातचीत के वक्त उनका अभिवादन नहीं किया। सुषमा का कहना था कि मीटिंग से पहले फोन पर उनकी बातचीत डी अमरकेश से हुई थी, लेकिन अमरकेश ने न तो उन्हें जय हिंद कहा और न ही नमस्ते कहा। दो सरकारी अधिकारियों के बीच हुए इस हाईवोल्टेज ड्रामे का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें महिला आयोग की सदस्य एसपी सीटी के ऊपर जमकर भड़कते हुए दिखाई दे रही हैं।

वीडियो में सुषमा साहू ने एसपी सिटी को खरी-खोटी सुनाते हुए कहा, ‘आपने न जय हिंद कहा, न नमस्ते किया, एक औपचारिकता होती है। आपने कहा कि आप मेरी कोई सीनियर नहीं हैं।’ महिला आयोग की सदस्य के आरोपों पर सफाई देते हुए अमरकेश ने कहा कि वह बहुत बेरुखी से बात कर रही थीं और ये कह रही थीं कि मैं आपके सीनियर में आती हूं। दोनों अधिकारियों ने यह भी कहा कि उनके पास रिकॉर्डिंग है और वे सुना सकते हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक महिला आयोग की सदस्य इतना बिफरा गईं कि उन्होंने अधिकारी को मीटिंग से बाहर जाने तक को कह दिया। इस पूरे ड्रामे के दौरान वहां बैठे लोग चुपचाप देखते रहे।